Divya Himachal Logo Dec 9th, 2016

बिलासपुर


नोटबंदी…अब तोड़ रही हौसला

बैंकों-एटीएम से कम नहीं हो रही भीड़; लोगों की परेशानी बढ़ी,  डाकघरों में भी करंसी का अभाव

बैंकों से माथा पच्ची, कैश की किचकिच और लंबी-लंबी कतारों में खड़े-खड़े आज महीना गुजर गया, मगर इंतजार अभी खत्म नहीं हुआ। बैंकों पर निर्भर जनता की जेब से निकली लक्ष्मी अभी घर वापस नहीं पहुंच पाई है। लिहाजा ‘दिव्य हिमाचल’ की पड़ताल ने भी महीना भर पीछा करते-करते हर तरफ यही सुना ‘मेरा नंबर कब आएगा…’। अपने ‘लुटे’ खजाने को हासिल करने के लिए आज भी लंबी-लंबी कतारें जस की तस हैं और एटीएम ‘सूखे की मार’ से उभर नहीं पाए हैं। प्रस्तुत है गुरुवार का आंखों देखा हाल

बिलासपुर – नोटबंदी से पैसे के लिए तरस रहे लोगों का हौसला अब टूटने लग पड़ा है। 29 दिनों के लंबे अंतराल के बाद भी बैंकों और एटीएम से लोगों की भीड़ कम नहीं हो रही है। बैंकों सहित जिला भर के डाकघरों में करंसी के अभाव के चलते लोगों की मुश्किलें अब काफी बढ़ गई हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों के लोग हो रहे हैं। हालांकि शहरों में भी करंसी के अभाव के चलते लोग अब दबी जुबान में ही सही, लेकिन कहीं न कहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले की आलोचना करने लग गए हैं। लोगों का अब भी प्रधानमंत्री से यही सवाल है कि नोटबंदी से पहले इससे होने वाली समस्याओं से लोगों को राहत देने के लिए क्यों उपयुक्त व ठोस कदम नहीं उठाए गए? क्यों नोटबंदी से पहले नई करंसी की व्यवस्था नहीं की गई? वहीं गुरुवार को कोलकाता में भाजपा नेता के पास से पकड़ी गई 33 लाख की नई करंसी को लेकर भी लोगों जहन में में तरह-तरह के सवाल उबाले मार रहे हैं। लोगों का कहना है कि वे नोटबंदी के बाद से पैसे-पैसे के लिए तरस रहे हैं। हर रोज बैंकों व एटीएम के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। केंद्र सरकार ने कहा था कि चैक के माध्यम से दस हजार तक की राशि बैंकों से निकलवाई जा सकती है, लेकिन बैंकों द्वारा दस हजार के बदले तीन से चार हजार तक की राशि ही थमाई जा रही है। बैंक प्रबंधक द्वारा स्पष्ट किया जा रहा है कि रिजर्व बैंक से उपयुक्त राशि न मिलने की वजह से ऐसा हो रहा है। क्योंकि अगर बैंकों में पर्याप्त राशि ही नहीं होगी तो उन्हें सभी लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए ही सबको समान रूप से इसका भुगतान करना होगा। बिलासपुर शहर के श्याम शर्मा, केहर सिंह, गुलाब सिंह, रोशनी वर्मा, सविता शर्मा, बेबी, सपना शर्मा, गौरव गुप्ता, दिनेश कुमार, संजय शर्मा, मनु शर्मा व विकास कुमार का कहना है कि बड़े-बड़े धन्ना सेठों और बड़े नेताओं को अब भी नोटबंदी का कोई असर नहीं है। उनके पास अब भी वैसे ही राशि का आदान-प्रदान हो रहा है। जरूरतमंद लोगों को आवश्यकता के हिसाब से पैसे नहीं मिल रहे हैं। समय के साथ लोगों की समस्याएं भी बढ़ती जा रही हैं। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जल्द ही इस समस्या के समाधान के लिए कारगर कदम उठाने चाहिए।  इतने लंबे समय के बाद बैंकों में पांच सौ रुपए की कई करंसी नहीं पहुंच पाई है। दो हजार का नोट भी छोटे नोट नहीं होने के कारण आफत बन चुका है।

December 9th, 2016

 
 

नोटबंदी…एक माह बाद भी एटीएम बंद

स्वारघाट – नोटबंदी के एक माह बाद भी स्वारघाट कस्बे के हालात नहीं बदले है। स्वारघाट के तीनों एटीएम में बीते तीस दिनों से एक बार भी कैश नहीं डाला गया है। इसके चलते स्वारघाट क्षेत्र की आम जनता व कर्मचारियों को भारी दिक्कतों का […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

मलोखर में नेपाली की लाश

मलोखर – बरमाणा पुलिस थाना के तहत मलोखर के पास सड़क के किनारे पुलिया से गिरने से नेपाली मूल के व्यक्ति की मौत हो गई है। सूचना मिलने पर गुरुवार को सुबह मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शव कब्जे में लिया और पूरी जांच पड़ताल […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

छंदोह जंगल में मृत मिला सांभर

घुमारवीं – दधोल क्षेत्र में आदमखोर तेंदुए की तलाश को सर्च कर रही वन विभाग व शूटरों की टीम को गुरुवार को कोई भी सुराग नहीं लग पाया है। सर्च कर रही वन विभाग की टीम को छंदोह जंगल में पानी के नाले के समीप […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

जेबें खालीं…कैसे चलेगा घर का खर्च

बरठीं – दो माह से पेंशन नहीं मिलना परिवहन निगम के पेंशन भोगियों के लिए परेशानी का सबब बन चुका है। अपनी जिंदगी के बेहतरीन 33 वर्षों तक परिवहन निगम को सेवाएं देने वाले प्रदेश भर के लगभग पांच हजार परिवहन कर्मचारी आज समय से […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

नकराणा स्कूल में शिक्षकों की कमी

नयनादेवी – ग्राम पंचायत नकराणा में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला की एसएमसी की एक बैठक प्रधान किरण कुमारी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। प्रेस को जारी एक विज्ञप्ति में किरण बाला ने कहा कि स्कूल में अध्यापकों के छह पद तथा दो पद मिनिस्ट्रियल के […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

कबड्डी टीमों का सिलेक्शन 11 को

घुमारवीं – हिमाचल अंडर-16 कबड्डी चैंपियनशिप के लिए जिला ब्वायज एंड गर्ल्ज कबड्डी टीमों का चयन 11 दिसंबर को सीनियर सेकेंडरी स्कूल नम्होल में होगा। बिलासपुर जिला कबड्डी संघ के तत्त्वावधान में होने वाला यह ट्रायल सुबह दस से सायं चार बजे तक चलेगा। ट्रायल […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

हिमांशु-श्वेता चंदेल बेस्ट वालंटियर

दसगांव स्कूल के सालाना समारोह में होनहार छात्रों को मिला सम्मान जुखाला  – अध्यापक जहां राष्ट्र निर्माता है वहीं बच्चे देश के भाग्य विधाता हैं इसलिए अध्यापकों को पढ़ाई के साथ-साथ बच्चों को देश के महान पुरुषों व समाज सुधारकों, शिक्षाविदों वैज्ञानिकों तथा बलिदानियों के […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

नयनादेवी में पानी की सप्लाई बंद

नयनादेवी – पंजाब के आनंदपुर हाइडल प्रोजेक्ट से बिलासपुर के नयनादेवी को अचानक पानी की आपूर्ति बंद कर दी गई है। इसके चलते नयनादेवी क्षेत्र में पानी का विकराल संकट पैदा हो गया है। आलम यह है कि नयनादेवी में पिछले तीन दिनों से पानी […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 

कल तक मांगी स्टॉलों की सूची

बिलासपुर – जिला स्तरीय एक दिवसीय रेडक्रॉस मेले का आयोजन 18 दिसंबर को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (छात्र) बिलासपुर के ग्राउंड में किया जाएगा। जिला रेडक्रॉस सोसायटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि रेडक्रॉस मेले में विभिन्न विभागों/ […] विस्तृत....

December 9th, 2016

 
Page 1 of 212

पोल

क्या हमारी संसद असफल है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates