Divya Himachal Logo Sep 26th, 2017

सुगंधा के स्टाइल की कायल मायानगरी

Utsavसोलन की रहने वाली सुगंधा ने बालीवुड में अपनी पहचान बतौर सेलेब्रिटी स्टाइलिस्ट बनाई है। वह छोटे व बड़े पर्दे के कई कलाकारों के साथ काम कर चुकी हैं। सुगंधा द्वारा तैयार किए गए स्टाइल का पूरा बालीवुड कायल है। किसी स्टार की पार्टी हो या फिर फिल्म व धारावाहिक की शूटिंग सभी जगह सुगंधा द्वारा तैयार किए गए स्टाइल चर्चित हैं। बहुत कम समय में सुगंधा ने मायानगरी में अपनी पहचान बनाई है। सुगंधा ने देशभर में न केवल जिला का बल्कि पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। सोलन की रहने वाली सुगंधा ने मायानगरी मुंबई में अपनी कलाकारी से सब को मंत्रमुग्ध कर दिया है। सुगंधा मंुबई में टीवी सीरियल में बतौर सेलिब्रिटी स्टाइलिस्ट काम कर रही हैं व उन्होंने सब टीवी सीरियल गुपचुप व हिंदी मूवी कलुवा में बतौर स्टाइलिस्ट काम किया है। सुगंधा का जन्म सोलन में हुआ व मध्यवर्गीय परिवार से संबंध रखती हैं। सुगंधा के पिता सुनील कुमार सूद बैंक में कर्मचारी हैं तथा माता घरेलू महिला हैं। सुगंधा की छोटी बहन खुशबू सूद शिक्षा ग्रहण कर रही है। पिता के सहयोग के कारण वह यह मुकाम हासिल कर पाई हैं। सुगंधा ने दस जमा दो सेंट ल्यूक्स स्कूल सोलन से की है व उसके बाद एसडी कालेज चंडीगढ़ से ग्रेजुएशन के बाद स्कूल ऑफ फै शन टेक्नोलॉजी से पोस्ट ग्रेजुएशन की है। सुगंधा जाने-माने कलाकार अभिषेक वर्मा, दिव्यांगना, सुयश, ईश्वर, डिंपल जगयानी, अनिता शर्मा, सारा खान, कृष्णा मुखर्जी सहित कई कलाकारों के लिए काम कर चुकी हैं। सेलिब्रिटी स्टाइलिस्ट के रूप में सुगंधा ने बहुत कम समय में अपनी पहचान बनाई है। वह बीते कुछ वर्षों से मुंबई में काम कर रही हैं। इस दौरान उन्हें बालीवुड की कई फिल्मों व धारावाहिको में बतौर स्टाइलिस्ट काम करने का मौका भी मिला है। सुगंधा का कहना है कि बचपन से उसे इस प्रकार के रचनात्मक काम करने का शौक रहा है। कई वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद वह बतौर स्टाइलिस्ट अपने आपको स्थापित कर पाई हैं। सुगंधा के पिता बैंकिंग सेक्टर से जुड़े हैं, इसलिए वह चाहते थे कि उनकी बेटी भी दस जमा दो के बाद बीकॉम की शिक्षा ग्रहण करे और बैंकिंग सेक्टर में ही नौकरी भी करे, लेकिन सुगंधा ने अपने पिता व परिवार को अपनी दिलचस्पी के बारे में बताया, जिसके बाद परिवार के सदस्य भी उसकी हरसंभव सहायता के लिए तैयार हो गए। सुगंधा का कहना है कि आम लोगों को सेलिब्रिटी स्टाइलिस्ट के बारे में पता नहीं होता है, जबकि इस क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनांए हैं। प्रशिक्षण के बाद इस क्षेत्र में करियर शुरू किया जा सकता है। स्कूली स्तर पर इस प्रकार के कोर्स शुरू किए जाने चाहिए, ताकि हिमाचली युवा भी इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकें। इस क्षेत्र से जुड़े लोग वर्ष भर में 25 से 30 लाख रुपए तक कमा सकते हैं।

Utsavमुलाकात

सेलिब्रिटी बन चुकी हूं, पर मंजिल अभी दूर है…

स्टाइल को परिभाषित करें?

मेरे हिसाब से हमारे तैयार होने के तरीके को स्टाइल कहते हैं। हम कैसे दिखे व अपने आप को प्रस्तुत करने को स्टाइल कहते हैं।

आप जिसे स्टाइल मानती हैं उसमें कैद होकर कोई सहज कैसे रहेगा?

आजकल के दौर में सभी आकर्षित लुक पाना चाहते हैं। हर इनसान को उसके मुताबिक ही स्टाइल किया जाता है। हर स्टाइल एक थीम पर आधारित होता है।

किसी भी टीवी व फिल्मी अदाकार के लिए स्टाइल क्यों जरूरी है?

क्योंकि टीवी व फिल्मी अदाकार को देख कर ही लोग उनके स्टाइल को अपनाते हैं। स्टाइल का होना जरूरी है।

आप स्टाइल का निर्धारण करते हुए किन बातों को ज्यादा तवज्जें देती है?

पर्सनेलिटी, कद- काठी व मनपसंद के मुताबिक ही स्टाइल किया जाता है। अगर किसी को साधारण पहनावा पसंद है, तो उसे उसकी पसंद से स्टाइल किया जाता है

आपके अनुसार फिल्मी दुनिया में सबसे अव्वल स्टाइल किस अदाकार में दिखाई देता है?

प्रियंका चोपड़ा व सलमान खान।

सेलिब्रिटी स्टाइलिस्ट बनने के उपरांत आप कितनी सेलिब्रिटी बन चुकी हैं?

मेरे हिसाब से मैंने अभी बहुत कुछ हासिल करना है व मैं अभी आगे बढ़ना चाहती हूं। कुछ हद तक सेलिब्रिटी बन चुकी हूं, लेकिन अभी मंजिल दूर है।

सुगंधा यह सब कुछ किस आधार पर कर पाईं?

इस सफर में मुझे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा व मेरे माता-पिता हमेशा ढाल बनकर मेरे साथ रहे। मैंने टीवी व फिल्मों के कई अदाकारों के साथ काम किया है।

हिमाचल के लिए कुछ करने का अवसर मिले तो क्या क रेंगी ?

मैं चाहती हूं कि हिमाचल के लोगों को भी इस क्षेत्र के बारे में पता हो। फैशन शो का आयोजन होना चाहिए, जिसमें लोगों को स्टाइल के बारे में पता चले। ब्यूटी कांटेस्ट में भी स्टाइलिश को इन्वोल्व करना जरूरी है।

हिमाचली युवाओं को करियर बनाने की कोई सलाह ?

इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। हिमाचली युवाओं को बचपन से ही इस क्षेत्र के बारे में पता होना चाहिए। स्कूलों में भी फैशन पर अलग से सब्जेक्ट शुरू करना चाहिए।

हिमाचल का कौन सा पहलू आपको मुंबई में भी एक अलग व्यक्तित्व से बांधे रखता है?

मेरा घर हिमाचल में ही है, मुझे हिमाचली होने पर गर्व है। मैं हिमाचली संस्कृति को कभी भूल नहीं सकती।

— मोहिनी सूद, नौणी

January 8th, 2017

 
 

पोल

क्या वीरभद्र सिंह के भ्रष्टाचार से जुड़े मामले हिमाचल विधानसभा चुनावों में बड़ा मुद्दा हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates