himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

एजुकेशन प्वाइंट इंस्टीच्यूट, मंडी (हिमाचल प्रदेश)

मोनिका ठाकुर मैनेजिंग डायरेक्टर

NEWSNEWSएजुकेशन प्वाइंट मंडी चार साल के भीतर ही छात्रों के सपनों को साकार करने के मामले में अव्वल संस्थान बन गया है। 2014 में छात्रों के लक्ष्य साधने की सीढ़ी बनने के मकसद से शुरू हुआ एजुकेशन प्वाइंट इंस्टीच्यूट नित नई ऊंचाइयां छू रहा है। संस्थान में छात्रों को पढ़ाने और मोटिवेट करने के लिए इंग्लैंड से भी गेस्ट फैकल्टी बुलाई जाती है। एजुकेशन प्वाइंट मंडी की एमडी मोनिका ठाकुर ने बताया कि 2014 में करीब 50 छात्रों के साथ संस्थान की शुरुआत हुई थी, लेकिन छात्रों के बेहतरीन नतीजे आने के बाद आज एजुकेशन प्वाइंट में विभिन्न विषयों में 300 से ज्यादा स्टूडेंट्स अपने-अपने क्षेत्र में लक्ष्य साधने में जुटे हुए हैं। संस्थान की सबसे बड़ी खासियत है कि इसमें अध्यापकों और छात्रों को दो भागों (विंग) में बांटा गया है। जैसे कि एक विंग में सात टीचर स्कूल स्टूडेंट्स को मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायो की तैयारी करवाते हैं, जबकि दूसरे विंग में 12 फैकल्टी एचएएस, अलाइड, एचपीएसएससी, एचपीपीएससी, बैंकिंग, एसएससी, टेट की तैयारी करवाई जाती है। यही एजुकेशन प्वाइंट की सबसे बड़ी खासियत है जो इसे दूसरे संस्थानों से अलग करती है। एमडी मोनिका ठाकुर ने बताया कि एजुकेशन प्वाइंट की सभी फैकल्टी एमए, बीएड और एमफिल है। 2014 में जब एजुकेशन प्वाइंट की शुरुआत हुई थी तो दसवीं, 11वीं 12वीं को मैथ्स व साइंस की कोचिंग दी जाती थी, जिसमें लगभग सभी स्टूडेंड्स 90 फीसदी से ज्यादा अंकों के साथ पास हुए थे। इसके बाद 2015 में दसवीं में 45, जमा दो में 60, जमा एक में 80 एडमिशन हुईं। एजुकेशन प्वाइंट विंग-टू शुरू करने के तीन साल के भीतर ही हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा सफलता प्राप्त करने वाला इस्ंटीच्यूट बन गया है। पहले तीन बैच में 100 फीसदी सरकारी नौकरी, पटवारी, जेओए का टेस्ट संस्थान के छात्रों ने क्लीयर किया है। 2015 में इंस्टीच्यूट ने 18 सिलेक्शन दी। इसमें सरकारी इंजीनियरिंग कालेज, बीएससी नर्सिंग सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाएं भी शामिल हैं।  2016 में कुल सात सिलेक्शन हुईं। इसमें मंडी का कोई पहला छात्र आईआईईएसटी कोलकाता में सिलेक्ट हुआ बाकी छह एनआईटी हमीरपुर के लिए सिलेक्ट हुए। मंडी शहर से एक साथ छह स्टूडेंट एनआईटी के लिए सिलेक्ट हुए। ऐसा कारनामा करने वाला ेएजुकेशन प्वाइंट पहला संस्थान है। 2017 में 15 सिलेक्शन एजुकेशन प्वाइंट ने दी। इसमें दस एनआईटी हमीरपुर, दो पीजीआई नर्सिंग, दो बीएससी नर्सिंग, एक वैटरिनरी शामिल है। इसके अलावा मंडी में एनडीए की सिलेक्शन(आयुष शर्मा)  देने वाला पहला इंस्टीच्यूट एजुकेशन प्वाइंट है। संस्थान का उद्देश्य छात्रों को हर उस प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयार करना है, जिससे उसके करियर की राहें निकलती हैं। इतने कम सेय में ही एजुकेशन प्वाइंट ने बेहतर नतीजे दिए है और अपने विश्वास को कायम किया है।

-अमन अग्निहोत्री, मंडी

You might also like
?>