नम आंखों से सैनिक को अंतिम विदाई

पारगी में शशि की अंत्येष्टि, कुपवाड़ा में हार्ट अटैक से हुआ था निधन

NEWSपटड़ीघाट— जिला मंडी की समैला पंचायत के पारगी गांव में बुधवार शाम को सैनिक शशि जसवाल की देह पहुंची। बुधवार को ही जवान का अंतिम संस्कार कर दिया गया। पार्थिव शरीर जब समैला पंचायत पारगी गांव में उसके पैतृक घर तिरंगे में लिपटा हुआ पहुंचा तो वहां उपस्थित  लोगों मेें हर किसी की आंखें नम हो गईं। पार्थिव देह के घर के आंगन में पहुंचते ही सैनिक की पत्नी शव से लिपट गई।  उसकी मां और बहन की चीखों से हर किसी का दिल पसीज उठा।  सैनिक शशि जसवाल की आयु अभी 37 वर्ष ही थी । सात वर्षीय बेटे  अंशुल  ने दी ्रिचता को मुखाग्नि दी। शशि के छोटे भाई दिनेश कुमार ने बताया कि उसका भाई हर दिन शाम को सारे परिवार से बात करता था और घटना से पहले भी शाम को उसने परिवार के सभी लोगों से बात की थी। वह शीघ्र ही छुट्टी लेकर घर आने की बात कर रहा था। अंतिम संस्कार पर  डीएसपी कर्ण गुलेरिया सहित पुलिस जवानों ने सलामी दी । इस दौरान  पार्थिव देह के साथ आई सेना की टुकड़ी ने भी हवा में फायर कर साथी जवान को अंतिम विदाई दी।  एसडीएम डा. सुरेश जसवाल, डीएसपी कर्ण गुलेरिया, विधायक कर्नल इंद्र सिंह, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार रंगीला राम राव, भाजपा जिला महामंत्री दिलीप ठाकुर, किसान मोर्चा जिला महामंत्री राजेंद्र भुट्टो, प्रदेश युकां महामंत्री यदुपति ठाकुर, सुदेश चंदेल, पंचायत प्रधान अश्वनी कुमार सहित सैकड़ों लोगों ने जवान को नम आंखों से विदाई दी । गौरतलब है कि शशि का कुपवाड़ा में हार्ट अटैक से निधन हो गया था।

You might also like