himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

विषय की समझ जरूरी

cereerप्रो. सुनील धर

एचओडी, भू-गर्भ विज्ञान विभाग, पीजी कालेज, धर्मशाला

भू-गर्भ विज्ञान में करियर से संबंधित विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने सुनील धर से बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के प्रमुख अंश…

भू-गर्भ विज्ञान में करियर का क्या स्कोप है?

आज का युग खनिजों, पदार्थाें और पृथ्वी में हो रहे असंख्य परिर्वतनों का युग हैं। ऐसे में पृथ्वी में होने वाली सभी खोजों और रहस्यों को उजगार करने के लिए भू-गर्भ विज्ञान ही एकमात्र सहारा है। ऐसे में युवाओं के लिए इस फील्ड में सभी राहें पूरी तरह से खुली हुई हैं।

इस फील्ड में करियर के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या है?

कम से कम युवाओं के लिए पोस्ट ग्रेजुएट होना अनिवार्य है। इसके साथ ही स्पेशलाइजेशन भी जरूरी है।

क्या इस क्षेत्र में कोई विशेषज्ञ कोर्स किए जा सकते हैं?

पोस्ट ग्रेजुएट के बाद इस क्षेत्र में स्पेशलाइजेशन  कोर्स उपलब्ध रहते हैं। स्पेशलाइजेशन के बाद रोजगार की संभावनाएं बढ़ जाती हैं और वेतन-भत्ते भी बेहतर मिलते हैं।

रोजगार के अवसर किन क्षेत्रों में उपलब्ध होते हैं?

एक वैज्ञानिक के रूप में इसरो, प्रोजेक्ट वैज्ञानिक, हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट, अध्यापन सहित अन्य क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध हैं।  हाइड्रो प्रोजेक्ट सहित अन्य खनिज पदार्थों  की कंपनियों में भू-गर्भ वैज्ञानिकों का  बहुत अधिक महत्व आज के समय में बढ़ गया है।

कहीं रोजगार मिलने पर आरंभिक आय कितनी होती है?

वैज्ञानिक के रूप में रोजगार मिलने पर अच्छे पैकेज उपलब्ध रहते हैं, इसमें हजारों से लेकर लाखों तक में आपका वेतन हो सकता है। सरकारी क्षेत्र में वेतन सरकारी मानकों के तहत मिलता है और निजी क्षेत्र में आपके अनुभव और कौशल से वेतन का निर्धारण होता है।

इस करियर को अपनाने वाले युवा में क्या विशेष गुण होने चाहिए?

इस विषय में रुचि होना बहुत अधिक जरूरी है। रुचि के साथ-साथ अपने विषय की समझ होना अति अनिवार्य है। इस विषय में इतिहास का गहन अध्ययन करने पर ही आगे की स्टडी करने का बेहतर परिणाम मिल सकते हैं।

इस विषय को चुनने वाले युवाओं को किन चुनौतियों का सामना करना पड़ता है?

युवाओं के लिए अपने विषय की समझ और रुचि होने पर अधिक परेशानियां नहीं झेलने पड़ती। लेकिन इसमें लगातार दृढ़ निश्चय के साथ प्रयास हमेशा जारी रखने होते हैं।

भू-गर्भ विज्ञान से संबंधी कोई नई जानकारी जो आप साझा करना चाहते हों?

वर्तमान में भू-गर्भ विज्ञान में लगातार नई खोजें हो रही हैं। इसरो व धर्मशाला कालेज में उनके ही रिसर्च के तहत भूकंप आने से पहले को लेकर खोज चल रही है, साथ ही चांद की सतह को लेकर भी अध्ययन जारी है।

जो युवा इस फील्ड में आना चाहते हैं, उनके लिए कोई प्रेरणा संदेश दें?

अपने विषय में रुचि के साथ समझ बनाकर लगातार प्रयास करते रहें, सफलता जरूर मिलेगी। भू-गर्भ विज्ञान एक रोमांचक करियर है, तो इसमें पदार्पण कर आप अपना भविष्य उज्ज्वल कर सकते हैं।

-नरेन कुमार, धर्मशाला

You might also like
?>