साप्ताहिक घटनाक्रम

NEWS* 9 सितंबर, 2016 को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने रांची स्मार्ट सिटी का शिलान्यास किया। यह देश की पहली ग्रीन फील्ड स्मार्ट सिटी होगी। यह वाई-फाई सिटी, कार्बन फ्रीजोन, आधुनिक यातायात नियंत्रण प्रणाली, वर्ल्ड क्लास एजुकेशन हब, 24 घंटे बिजली-पानी, प्रति 200 मीटर पर टायलट सहित अन्य कई सुविधाओं से युक्त होगी।

*चालू वित्त वर्ष 2017-18 में अगस्त, 2017 तक प्रत्यक्ष कर वसूली में वृद्धि दर्ज की गई। प्रत्यक्ष कर वसूली, शुद्ध रिफंड 2.24 लाख करोड़ रुपए रहा। यह पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 17.5 प्रतिशत अधिक है। यह वसूली वित्त वर्ष 2017-18 के लिए प्रत्यक्ष करों के कुल बजट अनुमान का 22.9 प्रतिशत है।

* 8 सितंबर, 2017 को कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में गठित पैनल द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनी भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लि. को महारत्न का दर्जा देने का निर्णय लिया गया। इस आशय की घोषणा जल्द ही केंद्र सरकार के सार्वजनिक उपक्रम विभाग द्वारा की जाएगी। इसके बाद महारत्न कंपनियों की कुल संख्या 8 हो जाएगी। वर्तमान में केंद्र सरकार ने सात केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रमों को महारत्न का दर्जा दिया है, जो इस प्रकार हैं- (1) भारत हैवी इलक्ट्रिकल्स लि. (2) कोल इंडिया लि. (3) गेल इंडिया लि. (4) इंडियन ऑयल कारपोरेशन लि. (5) एनटीपीसी लि. (6) तेल और प्राकृतिक गैस लि. (7) भारतीय इस्पात प्राधिकरण लि.। ज्ञातव्य है कि केंद्र सरकार ने फरवरी, 2010 में ‘महारत्न योजना’ की शुरुआत की थी।

* भारत – अमरीका रक्षा सहयोग के तहत 14 से 27 सितंबर, 2017 तक अमरीका में वाशिंगटन के ज्वाइंट बेस लुइस मैकॉर्ड में संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण  युद्ध अभ्यास- 2017 आयोजित किया जा रहा है। यह युद्ध अभ्यास भारत और अमरीका के बीच चल रहे संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण और रक्षा सहयोग के प्रयासों का सबसे बड़ा अभ्यास है। यह दोनों देशों में बारी-बारी से आयोजित किए जाने वाले संयुक्त अभ्यास का 13वां संस्करण है।

* एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर की समस्याओं का पांच ‘सी’ के आधार पर समाधान करेगी। श्री सिंह ने कहा कि ये पांच ‘सी’ करुणा, संवाद, सहअस्तित्व, विश्वास में बहाली और स्थिरता हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विशेष पर्यटन अभियान शुरू करेगी।

* भारत की स्वदेश में विकसित तीसरी पीढ़ी के टैंक विरोधी निर्देशित प्रक्षेपास्त्र (एटीजीएम) नाग का 8 सितंबर 2017 को डीआरडीओ द्वारा दो बार दो विभिन्न लक्ष्यों के ऊपर राजस्थान रेंज में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया।

You might also like