डीसी के प्रयासों से देश भर में छाया जिला ऊना

By: Jan 26th, 2023 12:45 am

22 चेंज एजेंट ऑफ 2022 में उपायुक्त राघव शर्मा का नाम भी हुआ शामिल

स्टाफ रिपोर्टर- गगरेट
उपायुक्त राघव शर्मा द्वारा किए गए सराहनीय कार्यों के चलते जिला ऊना एक बार फिर से देश भर में छाया है। अफरशाही के माध्यम से लोगों के जीवन में आमूलचूल बदलाव लाने के लिए उपायुक्त राघव शर्मा का नाम देश के उन बाइस नौकरशाहों में शामिल किया गया है जिन्होंने वर्ष 2022 में बेहतरीन काम किया। दि 22 चेंज एजेंट आफ 2022 में शामिल किया गया है जिन्होंने वर्ष 2023 की आशाओं को भी जिंदा रखा है। ब्यूरोक्रेट्स इंडिया की सूची में शामिल ऊना के उपायुक्त राघव शर्मा को शामिल करते हुए 2013 बैच के इस आईएएस आफिसर के जिले के प्रत्येक उपमंडल में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी को युवाओं के लिए लाइब्रेरी खोलने के प्रयास को सराहा गया है। उपायुक्त राघव शर्मा के प्रयास से जिले के पांचों उपमंडलों में ऐसी लाइब्रेरी की स्थापना की गई जहां पर युवा यूपीएससी जैसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं के साथ अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं। यहां तक कि कई लाइब्रेरी में तो कंप्यूटर के साथ इंटरनेट की भी सुविधा प्रदान की गई है। अब तक ऐसी छह लाइब्रेरी खोली जा चुकी हैं। यही नहीं बल्कि बाहरी राज्यों के मजदूर परिवारों के बच्चों के लिए नान रेजीडेंशियल ट्रेनिंग स्कूल खोलने के प्रयास को भी सराहा गया। पिछले साल जिले में ऐसे तीन स्कूल खोले गए। इससे पहले विद्यार्थी खुले में ही शिक्षा ग्रहण करते थे, जबकि बेहतरीन ढंग से डिजाइन किए गए इन सेंटर में अब टायलेट, बिजली व पेयजल जैसी बुनियादी सुविधाएं भी मुहैया करवाई गई हैं।

इन सेंटर की मदद से झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले इन विद्यार्थियों को मुख्यधारा के साथ जोड़ते हुए नजदीकी स्कूलों तक भी पहुंचाया गया है। उपायुक्त का ऐसे दस और स्कूल खोलने का प्लान भी है। इसके साथ ही किसानों को आधुनिक खेती से जोड़ते हुए उपायुक्त ने जिला ऊना में ड्रैगन फ्रूट की खेती को बढ़ावा देने का प्रयास किया है। फसल विविधिकरण के साथ किसानों की आय बढ़ाने के लिए उन्होंने वर्ष 2021 में प्रगतिशील किसानों के लिए एक वर्कशाप का आयोजन कर उन्हें ड्रैगन फ्रूट की खेती व इनके लाभ के बारे में बताया। यही नहीं बल्कि ड्रैगन फ्रूट की खेती को मनरेगा के साथ जोड़ा गया और मनरेगा के तहत ही वर्ष 2022 में पांच हजार से अधिक ड्रैगन फ्रूट के पौधे जिले में लगवाए गए। कई किसानों ने अपने खर्च पर भी ड्रैगन फ्रूट की खेती शुरू की। वर्ष 2023 में जिला ऊना प्रदेश का पहला जिला बना है जहां विश्व बैंक के बागबानी विकास प्रोग्राम के तहत ड्रैगन फ्रूट प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित किया गया है। अगर अफसरशाही समाज के उत्थान के लिए उपायुक्त राघव शर्मा जैसी सोच रखे तो समाज का उत्थान निश्चित तय है।