पाठकों के पत्र

न कंपकंपाती ठंड की परवाह और न आग बरसाती गर्मी की परवाह, बस देश की सुरक्षा इनका मकसद है, ये हैं हमारे देश की तीनों सेनाओं के जांबाज बहादुर सैनिक। जब हमारा देश आजाद हुआ था तब भारत सरकार ने देश की सेना के जवानों की मदद के लिए एक कमेटी का गठन किया था।

यह जान कर देशवासियों और विश्वभर के लोगों का हैरत में पडऩा स्वाभाविक है कि भारत में 2500 वर्षों से लोकतंत्र रहा है। यह हमारे देश की यूएन में स्थायी प्रतिनिधि ने कहा है कि भारत में लोकतंत्र की जडें़ 2500 साल पहले से थी, हम हमेशा लोकतंत्र थे। किस लोकतंत्र की बात कर रही

वर्ष 1971 में बांग्लादेश को आजाद कराने के लिए भारत और पाकिस्तान में जब युद्ध हुआ था तो उसी समय हमारे देश की नौसेना ने 4 दिसंबर को पाकिस्तान स्थित कराची में जो पाकिस्तान नौसेना का गढ़ था उसे तहत नहस कर दिया था। नौसेना की उस कामयाबी को याद करने के लिए अब हमारे

वस्तु एवं सेवा कर अर्थात जीएसटी नवंबर 2022 के आंकड़ों में अक्तूबर 2022 के आंकड़ों से मामूली सी गिरावट बताया गया है। लेकिन फिर भी नवंबर का आंकड़ा ठीक ही बताया जा रहा है क्योंकि यह 1.4 लाख करोड़ से पार रहा। सरकार ने देश में वन नेशन, वन टैक्स का सपना देखते हुए ऐतिहासिक

राहुल गांधी 7 सितंबर से भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हुए हैं और यह यात्रा 150 दिनों तक चलेगी। इस यात्रा में लगभग 3570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। इस यात्रा का पहला मकसद कांग्रेस पार्टी का खोया हुआ जनाधार पुन: प्राप्त करना है और दूसरा महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को उठाकर भारतीय

यूक्रेन युद्ध में भारत ने तटस्थता का परिचय देते हुए रूस को यह साफ संदेश दिया है कि यह युद्ध का युग नहीं है और एक तरफ जब रूस पश्चिमी देशों के अपार प्रतिबंधों का सामना कर रहा है, भारत ने रूस से तेल का आयात कर रूसी अर्थव्यवस्था को कुछ सहारा अवश्य दिया है।

आठ नवंबर 2016 की रात लगभग आठ बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अचानक राष्ट्र को संबोधित किया गया और 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों के विमुद्रीकरण का ऐलान जब किया था, तब लोगों को कुछ खास समझ नहीं आया। धीरे-धीरे यह समझा जाने लगा कि यह कालेधन पर प्रहार और आर्थिक भ्रष्टाचार रोकने

यह अच्छी बात है कि संविधान दिवस पर नेताओं ने जनता को कत्र्तव्य पालन करने के लिए प्रेरित किया और कहा कि संविधान अब अधिक प्रासंगिक है, जबकि संविधान तब से प्रासंगिक है जब से लागू हुआ है। आज देश और देश की जनता जिस मुकाम पर है, वह संविधान की देन है। ऐसा लगता

इस महीने की 12 तारीख को हिमाचल विधानसभा के चुनाव संपन्न हुए और इसके परिणाम 8 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों अपनी-अपनी सरकार बनाने के दावे कर रहे हैं। खैर यह तो चुनाव परिणाम घोषित होने पर ही पता चल पाएगा लेकिन इस बार पिछले विधानसभा चुनावों की अपेक्षा