चक दे हिमाचल

स्ट्रांगमैन इंडिया लीग में 260 किलोग्राम का वजन उठाकर हमीरपुर जिला के गौरव बन्याल ने स्वर्ण पदक हासिल कर जिला सहित हिमाचल प्रदेश का नाम रोशन किया है। इसके साथ ही हमीपुर जिला से संबंध रखने वाली वेट लिफ्टर प्रियंका बन्याल ने भी ताकत के बूते प्रतियोगिता में दूसरा स्थान हासिल किया है। उन्होंने दूसरा स्थान प्राप्त कर सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया है। पुरुष वर्ग में विजेता गौरव बन्याल को विजेता की ट्राफी तथा 18 हजार रुपए की राशि बतौर इनाम प्रदान की गई। प्रियंका बन्याल को भी रनरअप ट्राफी व 12 हजार रुपए की ट्राफी देकर सम्मानित किया गया। बता दें कि मुंबई में आयोजित स्ट्रांगमैन इं

पालमपुर के युवा फोटोग्राफर अर्चित सूद ने एक और उपलब्धि हासिल की है। अर्चित को आधिकारिक तौर पर फोटोग्राफी में 79 प्रमाणपत्र और छह प्रतिष्ठित राष्ट्रीय और राज्य पुरस्कार जीतने वाले सबसे कम उम्र के फोटोग्राफर के रूप में मान्यता दी गई है। इंडियन बुक ऑफ रिकॉड्र्स के में अर्चित का नाम दर्ज हो गया है। यह एक खास उपलब्धि और नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड है। फोटोग्राफी में एक दशक के अनुभव के साथ, अर्चित ने विभिन्न शैलियों में महारत हासिल की है और इस कला के रूप की सीमाओं को आगे बढ़ाना जारी रखा है। अर्चित ने पत्रकारिता में अपनी मास्टर डिग्री पूरी करने के बाद पब्लिक रिलेशन में अपना करियर बना

मंडी जिला के सराज विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत थाची की बेटी उमा राणा मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस में बतौर सूबेदार नियुक्त हुई हैं। उमा राणा की नियुक्ति हाल ही में आयोजित स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर हुई है, जिसके बाद वे मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस में बतौर सूबेदार नियुक्त हुई हैं। उमा राणा ने अपनी ग्रेजुएशन कुल्लू कालेज से की है। लॉ डिग्री एचपीयू से ग्रहण की है। उमा राणा ने कड़ी मेहनत कर मुकाम हासिल किया है। क्षेत्र की बेटी की नियुक्ति होने पर खुशी का माहौल

भारतीय दुनिया के किसी भी कोने में रहें लेकिन अपनी सभ्यता व मुसीबत में फंसे व्यक्ति की मदद करने के व्यवहार से पहचाने ही जाते हैं। विधानसभा क्षेत्र गगरेट के अंबोटा गांव के ऑस्ट्रेलिया में रह रहे एक युवक ने पड़ोस में रह रहे पंजाबी युवक को अकेले अपने दम पर लाक्षागृह बने उसके घर से जिंदा बाहर निकाल कर न सिर्फ उसकी जान बचा ली बल्कि उसकी बहादुरी का किस्सा सिडनी में जिसने भी सुना उसने ही दांतों तले अंगुली दबा ली। उसकी इसी बहादुरी के चलते अंबोटा गांव का लक्ष्य सिडनी के वेव पोर्टल पर हीरो बना हुआ

सुंदरनगर की बेटी अकांक्षा शर्मा ने सपनों की सफ ल उड़ान भरते हुए परिवार और क्षेत्र का नाम रोशन किया है। 25 वर्षीय बेटी अकांक्षा शर्मा भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग अफसर बनी हैं। पहली जून को बंगलुरु में वायुसेना की अफसर पॉसिंग सेरेमनी के बाद अकांक्षा शर्मा भारतीय वायुसेना का हिस्सा बन गई हैं। पासिंग सेरेमनी में बेटी की बड़ी उपलब्धि के गवाह बनने के लिए पिता मनमीत और माता सीमा शर्मा हैदरबाद पहुंचे थे। सुंदरनगर के पुंघ निवासी अकांक्षा शर्मा का परिवार मूल रूप से मंडी जिला के खनोट बलद्वाड़ा के निवासी हैं और पिछले 22 साल से सुंदरनगर में सेटल हैं। उनके पिता मनमीत शर्मा प्रदेश शिक्षा विभाग में प्रवक्ता के रूप में सेवाएं दे रहे हैं, ज

हिमाचल के सुंदरनगर की बेटी मेजर राधिका सेन ने भारतीय सेना में सेवाएं देते हुए न केवल देश की सरहदों की रक्षा की, अपितु संयुक्त राष्ट्र में वहां का सबसे बड़ा सैन्य पुरस्कार पाने वाली दूसरी भारतीय महिला अधिकारी बनीं। अवार्ड से सम्मानित होने पर राधिका ने देश, सेना, हिमाचल सहित सुंदरनगर का नाम रोशन किया। कांगो में संयुक्त राष्ट्र (यूएन) मिशन में सेवा दे चुकी भारतीय महिला शांति रक्षक मेजर राधिका सेन को गुरुवार को सैन्य पुरस्कार से सम्मानित किया। गुरुवार को अंतर

शिमला भारतीय सेना की अफसर ट्रेनिंग अकादमी कामटी नागपुर महाराष्ट्र से हिमाचल शिक्षा विभाग से चंबा जिला के नौ एचपी बटालियन राष्ट्रीय कैडेट कोर डलहौजी के छह अध्यापकों ने सेना का प्री-कमीशन पास किया है।

बैजनाथ उपमंडल के टिकरी गांव की रितिका चौधरी का चयन एयरफोर्स अस्पताल बंगलुरू में बतौर लेफ्टिनेंट हुआ है। रितिका चौधरी के पिता कुलदीप चौधरी भारतीय सेना से सेवानिवृत्त सूबेदार मेजर है, जबकि माता ऊषा कुमारी गृहिणी हैं। रितिका के पिता ने बताया कि रितिका की आरंभिक शिक्षा विशुद्धा पब्लिक स्कूल बैजनाथ से हुई है। उसके पश्चात उन्होंने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग घणाहट्टी से नर्सिंग स्नातक की डिग्री हासिल की।

हिमाचल प्रदेश राज्य शतरंज संघ के तत्वावधान में जिला मंडी शतरंज संघ ने सुंदरनगर में प्रतियोगिता करवाई। मुख्यातिथि मठ मंदिर सराय के सचिव महेंद्र शर्मा ने विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश राज्य शतरंज संघ के उपाध्यक्ष जसवीर सिंह ठाकुर व अमित शर्मा के साथ जिला सिरमौर शतरंज संघ की महासचिव अमित कुमार शर्मा, जिला मंडी शतरंज संघ के कोषाध्यक्ष नीरज शर्मा व मठ मंदिर समिति के प्रधान गोपाल शर्मा सहित अनेकों गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। चीफ ऑर्बिटर राजकुमार शर्मा ने बताया कि राज्यस्तरीय महिला शतरंज प्रतियोगिता में 40 खिलाडिय़ों ने शिरकत