एकलव्य के लिए

शिक्षा में एकलव्य की खोज करती केंद्र सरकार की पद्धति हिमाचल के कबायली इलाकों के लिए वरदान साबित होने की दहलीज पर खड़ी है। किन्नौर के निचार में सफलतापूर्वक चल रहे एकलव्य स्कूल के बाद पांगी, भरमौर और लाहुल-स्पीति में खाका तैयार है और इसके लिए…

अंततः महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन

आसमान से गिरी, खजूर में अटकी। कमोबेश यही स्थिति है शिवसेना की। उसने सिर्फ ‘कुर्सी’ की छटपटाहट और महत्त्वाकांक्षा के मद्देनजर भाजपा के साथ तीन दशक पुराना गठबंधन भी तोड़ लिया, उसके बावजूद सरकार बनाने का वक्त उसकी मुट्ठी से लगभग फिसलता…

मसला सियासी सहमति का

इन्वेस्टर मीट के बाहर कांग्रेस को कहने का अवसर मिला, तो विपक्षी आलोचना के तेवर पूरे प्रदेश की छानबीन में मशगूल रहे। मसला राजनीतिक सहमति को परखने का या एक-दूसरे के सत्ताकाल को अछूत मानकर चलने का नहीं होना चाहिए, बल्कि प्रदेश की हकीकत में…

अयोध्या पर सियासत

अयोध्या विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय के सर्वसम्मत फैसले को एक दिन भी नहीं बीता और पुरानी सियासत की तलवारें खिंच गईं। हालांकि आम आदमी के स्तर पर पत्ता भी नहीं खड़का। अयोध्या में मुसलमान मंदिरों में गए और महंतों ने उन्हें लड्डू खिलाए। दिल्ली…

देव संस्कृति के बीच माफिया

हिमाचली समाज की हैसियत और हालत का जिक्र करती सरकाघाट की घटना के सरकंडे हमारे वजूद के आसपास आकर खड़े हो जाते हैं। एक बुजुर्ग औरत के आंसुओं के सच में भीग कर हिमाचल लांछित है और अगर अब भी शर्म नहीं, तो यह डूब मरने की स्थिति है। समाज द्वारा…

अयोध्या में राम मंदिर

प्रभु राम का टेंट वाला वनवास भी समाप्त...और अब वह अयोध्या लौटेंगे। भव्य मंदिर में सुशोभित होंगे। अब उनके जन्म पर भी कोई सवाल नहीं होगा। रामभक्त गरिमामय तरीके से पूजा-अर्चना करेंगे। अब अयोध्या में रामलला ही विराजमान होंगे और उनकी सदाशयता के…

हिमाचल का ग्लोबल होना

इन्वेस्टर मीट के भीतर कई तहखाने हैं और इसीलिए हर तरह की बहस और विमर्श का क्षितिज बड़ा होगा। सरकार अपनी पारी में इसका शृंगार करते हुए प्रदश्े को कहां तक ले जाएगी, इसके आंकड़ों का करिश्माई अंदाज कहीं तो यथार्थ से मुलाकात करेगा। बहरहाल वैश्विक…

अयोध्या पर फैसले से पहले…

प्रधानमंत्री मोदी ने दोहराया है कि अयोध्या पर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला कुछ भी हो, लेकिन देशवासी शांति और सद्भाव बनाए रखें। उधर लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के डीएम और एसएसपी…

हिमाचल की आर्थिक हाजिरी

निवेश की छांव में पल रहे सपने देश के प्रधानमंत्री से मुखातिब हुए, तो पर्वतीय राज्य की भाग्य लकीरों पर उनके हस्ताक्षर स्पष्ट हैं। यहां दो सरकारों के साझा पुल पर कुछ कर गुजरने का काफिला निकला और धर्मशाला में प्रधानमंत्री ने करीब ढाई घंटे का…

इन्वेस्टर मीट के बहाने-5

इसे कांग्रेस बनाम भाजपा के मुकाबले में देखेंगे, तो आलोचना के बीच संदर्भ बदल जाएंगे। भले ही सरकार के आमंत्रण पर विपक्ष की भागीदारी इन्वेस्टर मीट में सुनिश्चित न हो, लेकिन ढर्रा बदलने की आहट जरूर सुनी जाएगी। बात जब एमओयू के पहाड़ से उतर कर…

काला कोट बनाम खाकी वर्दी

काला कोट धारी वकीलों और खाकी वर्दी वाले पुलिसकर्मियों के बीच स्थिति बेहद उग्र हो गई थी। तनाव और फासले अब भी हैं। यह अभूतपूर्व और अप्रत्याशित परिदृश्य है। दोनों को कानून के रखवाले और सूत्रधार माना जाता रहा है। बल्कि वे पूरक की भूमिका में रहे…

इन्वेस्टर मीट के बहाने-4

निवेश महज निवेश नहीं आर्थिकी की दिशा है, लिहाजा इसे आर्थिक सुधारों के परिप्रेक्ष्य में भी देखना होगा। हम इन्वेस्टर मीट की कोरी आलोचना करने से पूर्व सोचें कि इस वर्ष हिमाचल का कुल बजट 44388 करोड़ का है, जो प्रस्तावित निवेश से आधा है यानी…

सवाल जीने के अधिकार का

प्रदूषण पर सर्वोच्च न्यायालय और राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने भी हस्तक्षेप किया है। इस पर चिंता और सरोकार जताते हुए उन्होंने नौकरशाहों को तलब किया है। इस संदर्भ में सर्वोच्च अदालत ने बेहद सख्त टिप्पणी की है कि प्रदूषण ने हमारा जीने का अधिकार ही…

इन्वेस्टर मीट के बहाने-3

निवेश के राजनीतिक सिद्धांत से अलग व्यापारिक हिसाब-किताब है, लिहाजा निजी क्षेत्र को आमंत्रित करके हिमाचल सरकार प्रदेश के आचरण में परिवर्तन भी ला रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर पूर्व में हुए निवेश के मद्देनजर नसीहत देते हुए यह…

सांसों का आपातकाल

दिल्ली और आसपास प्रदूषण इतने जानलेवा स्तर तक पहुंच गया है कि इसे ‘सांसों का आपातकाल’ करार दिया जा रहा है। वैसे भी सरकार ने प्रदूषण का आपातकाल घोषित किया है। स्कूल बंद करा दिए गए हैं और कई गतिविधियों पर पाबंदी चस्पां की गई है। उसके बावजूद…