विचार

हिमाचल प्रदेश के हर जिला मुख्यालय पर वॉलीबाल के लिए इंडोर स्टेडियम हैं। वैसे भी वॉलीबाल हिमाचल प्रदेश के गांव-गांव में खेला जाता है। हमीरपुर, ऊना, मंडी व ऊपरी हिमाचल प्रदेश से वॉलीबाल के कई अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी निकले हैं। प्रीतम चौहान जैसे अनुभवी व प्रतिभाशाली प्रशिक्षक से हिमाचल प्रदेश को अपेक्षा रहेगी कि वह हिमाचल

किसी भी धर्म को अगर कहीं से फंड मिलता है तो उसका सदुपयोग मानवता और गरीबों की सेवा के लिए करना चाहिए। अगर इस फंड का दुरुपयोग कोई अपने स्वार्थ के लिए करता है तो यह मानवता के खिलाफ है। हमारा देश दुनिया का सबसे बड़ा धर्मनिरपेक्ष देश है। यहां न तो कानून और न

गगरेट पुलिस चैक पोस्ट पर कानून के सन्नाटे को तोड़ता एक अज्ञात वाहन तीन जवानों को रौंद देता है और वहां खून के धब्बों की शिनाख्त में अपाहिज बेडि़यां नजर आती हैं। इसे वाहनों की टक्कर कहें, रात की चीख मानें या एक ही बाइक पर बिना हेल्मेट तीन सवार जवानों की दुखद मृत्यु के

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने महासभा सत्र के संबोधन में कहा है कि दुनिया शीत युद्ध की ओर अग्रसर है। दुनिया इससे पहले कभी इतनी बंटी हुई नहीं लगी। गंभीर संकट के हालात बने हैं। दुनिया गर्त की ओर बढ़ रही है। अमरीकी राष्ट्रपति जोसेफ बाइडेन ने महासभा के प्रथम संबोधन में स्पष्ट किया

मैं इन दिनों छपास के रोग से पीडि़त हूं। वैसे तो मेरा यह रोग क्रॉनिक हो गया है, क्योंकि मैं पैंतालीस साल से व्यंग्य लेखन कर रहा हूं, लेकिन इन दिनों छपास की भूख इसलिए बढ़ गई है कि एक तो मैं सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हो गया हूं, दूसरा विसंगतियों की बाढ़ आ गई

यदि किसी परिवार में पति-पत्नी दोनों नौकरीपेशा हैं तो एक तनख्वाह से घर चलाना और दूसरी तनख्वाह से व्यवसाय में निवेश करना आसान हो जाता है। एक बार जब व्यवसाय से इतनी सी आय होने लगे कि आपके घर का खर्च निकलना शुरू हो गया तो वह स्थिति ‘नौकरी से मुक्ति’ का चरण है, यानी

इन 51 वर्षों में एनएसएस ने निःस्वार्थ भाव से ‘स्वयं से पहले आप’ आदर्श वाक्य के साथ समाज सेवा के क्षेत्र में एक विशेष आयाम प्राप्त कर लिया है। यह पहचान आगे भी इसी प्रकार रहेगी, यह विश्वास स्वयंसेवियों के प्रयासों को देख कर दृढ़ होता है। सरकार को भविष्य में भी इस प्रकार के

पहले जूते और चेहरे पालिश किए जाते थे, कि आदमी अपने दबदबे के दोबाला हो जाने का एहसास करवा सके। अब तो भाई जान, बाज़ार में बिकती सब्ज़ी से लेकर फल-फूल तक चमका कर, उनको पालिश और दवाओं के इंजैक्शन तक लगा कर बेचे जाते हैं ताकि उनके बढि़या होने के प्रति ग्राहक आश्वस्त हो

संत नरेंद्र गिरि ने संदिग्ध आत्महत्या की। यह बहुत आश्चर्य की बात है कि एक संत जो लोगों के लिए एक आदर्श है, उसने आत्महत्या कर ली। जब कोई व्यक्ति संत बन जाता है तो वह सभी भौतिक विलासिताओं को छोड़ देता है। वह एक सादा जीवन और उच्च विचार जीता है। फिर प्रश्न यह