नए नियम लागू क्यों नहीं?

-डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पारित नए परिवहन नियम केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी द्वारा देश में तो लागू करवा दिए गए हैं, जिसमें नियम सख्त करते हुए जुर्माना 100 प्रतिशत तक बढ़ा दिया गया है यानी वर्तमान…

भीड़ से भीड़ चुनो

निर्मल असो स्वतंत्र लेखक सामर्थ्यवान होना क्षमताशाली होना भी है, यह जरूरी नहीं। यह जरूरी नहीं कि सारी शक्ति भीतर हो, बल्कि जो बाहर दिखा सकता है, वही तो देखा जाएगा। यानी अपनी क्षमता के उपार्जन के लिए भीड़ सरीखा बनो या व्यवहार करो। आज देश…

मीडिया ने भाषा को आम जन तक पहुंचाया

हिमाचल में मीडिया की ग्रोथ के साथ भाषायी परिवर्तन - 2 अब वह जमाना नहीं रहा जब जालंधर, चंडीगढ़ या दिल्ली से प्रकाशित अखबार हिमाचल में आया करते थे। अब हिमाचल, खासकर कांगड़ा खुद एक मीडिया हब बन गया है। हिमाचल में अब यहीं से प्रकाशित…

कौसरनाग यात्रा रोकने में कश्मीरियत

डा. कुलदीप चंद अग्निहोत्री वरिष्ठ स्तंभकार कश्मीर घाटी को नाग भूमि भी कहा जाता है, जिसके कारण घाटी के अनेक तीर्थ पर्यटन स्थलों का नाम नाग शब्द से मिलता है। यह झील दो मील लंबी और तकरीबन आधा मील चौड़ी है। पीर पंजाल की शृंखलाओं में स्थित…

कैद के भीतर नया उजाला

शिमला में राष्ट्रीय स्तर के सम्मेलन में कैदियों को रोजगार से जोड़ने की परिकल्पना पर विमर्श की सबसे अहम कड़ी यही है कि जेलों में दो सौ करोड़ का कारोबार हो रहा है। हिमाचल का अपना रिकार्ड इस दिशा में अग्रणी तथा प्रेरणादायक रहा है और यही वजह है…

चालान पर चक्का जाम

नए मोटर वाहन कानून के तहत भारी जुर्माने के खिलाफ ट्रांसपोर्टर के 44 संगठनों ने हड़ताल की। फिलहाल यह दिल्ली-एनसीआर तक ही सीमित थी। ट्रांसपोर्टर संगठनों की धमकी है कि यदि जुर्मानों में संशोधन नहीं किया गया, तो वे देशव्यापी हड़ताल तक भी…

चुनाव रोकना अलोकतांत्रिक

विनय छींटा लेखक, शिमला से हैं छात्र संघ चुनाव देश के अनेक बड़े विश्वविद्यालयों में बंद है। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में भी सरकार और विश्वविद्यालय प्रशासन ने निर्णय दे दिया है कि चुनाव नहीं होंगे। बल्कि राज्य के मुख्य छात्र संगठन…

सेना मुख्यालय में फेरबदल

कर्नल मनीष धीमान स्वतंत्र लेखक पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार भारतीय सेना पर बहुत अहम निर्णय ले रही है। स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री द्वारा चीफ आफ डिफेंस स्टाफ पद की घोषणाएं, फिर मानवाधिकार मामलों के लिए…

ट्रैफिक के नए नियम

-किशन सिंह गतवाल, सतौन, सिरमौर पूरे भारत में ट्रैफिक के नए नियम 31 अगस्त की अर्धरात्रि से लागू हो गए हैं, इन नियमों के अनुसार वाहन चालकों को ट्रैफिक नियमों का पालन करना होगा। आए दिन देश में नियमों की अनुपालना के अभाव में हजारों लोग…

भारत में सड़क संस्कृति का सुधार

प्रो. एनके सिंह अंतरराष्ट्रीय प्रबंधन सलाहकार जब मैंने संयुक्त राष्ट्र के लिए करीब 12 देशों में काम किया तो मैंने पाया कि अफ्रीका के आदिम देशों की दूरस्थ सड़कों तक में सड़क नियमों के प्रति पूरा सम्मान होने की तुलना में हमारी सड़कों पर…

जूडो के द्रोणाचार्य जीवन शर्मा

भूपिंदर सिंह राष्ट्रीय एथलेटिक प्रशिक्षक अंब उपमंडल के पोलिया पुरोहिता गांव के जीवन शर्मा आज देश के सबसे बड़े प्रतिष्ठित प्रशिक्षकों के पुरस्कार द्रोणाचार्य अवार्ड से सम्मानित हैं। इनके पिता भारतीय सेना में नौकरी में होने के कारण इनकी…

सादगी से सतर्कता तक

हिमाचल अपनी सादगी से सतर्कता के करीब पहुंच गया है ताकि तरक्की के बीच अपराध और आपराधिक तंत्र घुसपैठ न कर पाएं। पर्यटन और परिवहन के डेस्टिनेशन पर पहुंचे आपराधिक तंत्र की बिसात पर कानून-व्यवस्था की चुनौतियां बढ़ रही हैं। पुलिस विभाग की संरचना…

पाक में सब कुछ ठीक नहीं

- डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर विभिन्न-विभिन्न समाचार चैनलों से यह समाचार जानकर बड़ा आश्चर्य हुआ कि संयुक्त राष्ट्रसंघ में भारत के विरुद्ध आग उगलने वाले पाकिस्तान में अपने अंदर ही सब कुछ ठीक नहीं है। जैसा कि पाक विदेश मंत्री शाह महमूद…

अब नवंबर में राम मंदिर

अयोध्या विवाद पर तारीख-दर-तारीख का सिलसिला टूट सकता है। भारत एवं सर्वोच्च न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई ने सुनवाई और जिसकी आखिरी तारीख 18 अक्तूबर तय कर दी है। पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ को फैसला लिखने में चार सप्ताह का…

एक नंबर के ईमानदार

पूरन सरमा स्वतंत्र लेखक वे एक नंबर के ईमानदार आदमी थे। किसी का कार्य किए बिना कुछ नहीं लेते थे। उनके ऐसा भी नहीं था कि कोई कार्य करने का पहले पैसा दे। हां, इतना अवश्य था कि काम करवाने के बाद वे अपना हक छोड़ते नहीं थे। इसलिए उनके क्षेत्रों…