सरकारी जमीन के रिकॉर्ड करें दुरुस्त

उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा के शिक्षा, वन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश

अंबाला – उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने सोमवार को अपने कार्यालय में विभागाध्यक्षों की एक बैठक लेते हुए उनके विभाग से संबंधित जो भी सरकारी जमीन है, उसका रिकॉर्ड दुरुस्त करने बारे निर्देश दिए। साथ ही उसका इंतकाल विभाग के नाम दर्ज है या नहीं, उसकी जानकारी लेकर इस कार्य को भी तुरंत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सरकारी भूमि का रिकॉर्ड दुरुस्त कर उसको पोर्टल पर भी अपलोड करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए शिक्षा विभाग, वन विभाग, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अपने विभाग से संर्बंधित जो भी सरकारी जमीन है, उसका रिकॉर्ड दुरुस्त करना विशेष तौर पर सुनिश्चित करें। साथ ही अन्य विभाग के अधिकारी भी इस कार्य को तुरंत करें। उन्होंने कहा कि रिकॉर्ड को दुरूस्त करने का उद्देश्य यह है कि जो भी सरकारी भूमि है, उसका संबंधित विभागो को जानकारी हो सके ताकि कोई भी अन्य उसका दुरुपयोग न कर सके।  पंचायत विभाग और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कहा कि वे बेहतर समन्वय के साथ अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित जो भी सरकारी भूमि है, उसका रिकॉर्ड प्राथमिकता के आधार पर करना सुनिश्चित करें। उन्होंने बैठक में नायब तहसीलदार व राजस्व विभाग के अन्य अधिकारियों को भी निर्देश दिये कि सरकारी भूमि से सम्बन्धित जो भी जानकारी उनके संज्ञान में आती है, उसका तुरंत इंतकाल दर्ज करना सुनिश्चित करें। सरकारी भूमि के रिकॉर्ड दुरूस्त करने से संबंधित यदि कोई भी जानकारी या इस कार्य में सहयोग की आवश्यकता हो तो वह राजस्व विभाग के असेस्टस तहसीलदार से संपर्क करके इस कार्य को करवा सकते हैं।  इस कार्य के तहत केंद्र व राज्य सरकार के सभी विभाग शामिल हैं। उपायुक्त ने बैठक के क्त्रम में यह भी बताया कि इस बैठक से पहले एफसीआर ने सरकारी भूमि का रिकॉर्ड दुरुस्त करने बारे सभी उपायुक्तों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए हैं। इसलिये संबंधित विभाग निर्देशों की अनुपालना में इस कार्य मे तेजी लाते हुए इसे पोर्टल पर अपलोड करें। इसके उपरांत उपायुक्त ने डीएलसीसी व एक अन्य विषय से जुड़े अधिकारियों की बैठक लेकर भी उन्हें आवश्यक दिशानिर्देश दिए।

You might also like