अब जुलाई में होंगे दाखिले, विश्वविद्यालय के एंट्रेंस टेस्ट के परिणाम में देरी, 27 जून को शुरू करनी थी प्रक्रिया

By: Jun 25th, 2022 12:06 am

विश्वविद्यालय के एंट्रेंस टेस्ट के परिणाम में देरी, 27 जून को शुरू करनी थी प्रक्रिया

स्टाफ रिपोर्टर-मंडी

प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में लिए गए एंट्रे्रंस टेस्ट के परिणाम में देरी के चलते नए दाखिलों में दो सप्ताह तक ही देरी हो सकती है। इससे पहले इन दाखिलों की प्रक्रिया शुरू करने की तिथि 27 जून निर्धारित की गई थी, लेकिन एंट्रेंस टेस्ट का अभी तक पूरा परिणाम नहीं निकल पाया है। इसी के चलते विश्वविद्यालय मंडी में शुरू होने वाले नए पांच कोर्स अब जुलाई में ही शुरू हो पाएंगे, जिसकी कुल सीटें 195 निर्धारित की गई है। बता दें कि सरकार पटेल विश्वविद्यालय मंडी में जुलाई माह में पांच नए पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स शुरू हो जाएंगे। इसमें इंडस्ट्रियल केमिस्ट्री(एमएससी), मास्टर्स इन कम्प्यूटर एपलीकेशन, इंवायरमेंटल साइंस (एमएससी), मास्टर्स इन कम्प्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए) और पब्लिक एडमिस्ट्रेशन शामिल हैं। इसके साथ मंडी विवि में नए इन कोर्सों के शुरू होने से प्रदेश के पांच जिलों के विद्यार्थियों को लाभ मिलेगी। इससे पहले प्रदेश के मंडी, कुल्लू, हमीरपुर, बिलासपुर, कांगड़ा, ऊना जिलों के हजारों छात्र-छात्राओं को इन कोर्स की पढ़ाई करने के लिए शिमला जाना पड़ता था। जुलाई माह में अब मैरिट के आधार पर छात्र-छात्राएं समीपवर्ती विवि मंडी में दाखिला ले सकेंगे। वहीं, विश्वविद्यालय मंडी के प्रशासनिक कार्यों के डीन डा. दीपक पठानिया ने बताया कि एंट्रेंट टेस्ट के परिणाम अभी आ रहे हैं।

इतनी होंगी सीेटें

इंडस्ट्रियल केमिस्ट्री (एमएससी) की 30 सीटें, मास्टर्स इन कम्प्यूटर एप्पलीकेशन की 45 सीटें, इंवायरमेंटल साइंस (एमएससी) की 30 सीटें, मास्टरर्स इन कम्प्यूटर एप्लीकेशन (एमबीई) की 45 सीटें और पब्लिक एडमिस्ट्रेशन की 45 सीटें रखी हैं।