सुनाम ऊधम सिंह वाला में स्थापित होगी औद्योगिक एस्टेट

By: Aug 7th, 2022 12:02 am

चंडीगढ़, 6 अगस्त (ब्यूरो)

राज्य में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए सुनाम ऊधम सिंह वाला में औद्योगिक एस्टेट की स्थापना की जाएगी। यह बात पंजाब के आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री अमन अरोड़ा ने शनिवार को एसयूएस कालेज, सुनाम में उद्योगपतियों और व्यापारियों के साथ बातचीत करते हुए कही। जमीनी स्तर पर ऐसे समागमों की महत्ता पर ज़ोर देते हुए अमन अरोड़ा ने कहा कि सरकार को ऐसे समागमों के साथ उद्योगों को पेश असली समस्याओं को समझने में मदद मिलती है और उद्योगों को प्रफुलित करने के लिए कारोबार-समर्थकी नीतियां तैयार करने में भी सहायक होते हैं। प्रोग्राम का उद्देश्य सुनाम ऊधम सिंह वाला में प्रस्तावित नई औद्योगिक अस्टेट की ज़रूरतों को समझना था। सीएलयू और एनओसी प्राप्त करने में देरी संबंधी उद्योगपतियों की शिकायतों पर कैबिनेट मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से सीएलयू सर्टिफिकेट की प्रक्रिया को और सरल बनाने की योजना बनाई जा रही है और नई व्यवस्था जल्दी लागू कर दी जाएगी।

उद्योगपतियों और कारोबारियों ने मांग की है कि वेट के बकाय के निपटारे के लिए ओटीएस की आखिरी तारीख़ कम से कम 31 दिसंबर तक बढ़ाई जाए। एसडीआईसी के जनरल सचिव एमपी सिंह ने कहा कि मुलाजि़मों पर लागू किए जा रहे विकास टैक्स की सीमा 2.5 लाख से बढ़ाकर पांच लाख की जाए। स्थानीय उद्योगपति बलविंदर जिंदल की तरफ से औद्योगिक फोकल प्वाइंट के नयी औद्योगिक इकाईयां स्थापित करने में सहायक होने संबंधी दिए सुझाव के बारे अमन अरोड़ा ने कहा कि पंजाब में औद्योगिक पार्कों को विकसित करने के लिए लैड्ड पुल्लिंग नीति सफल रही है और सुनाम में प्रस्तावित इंडस्टरियल अस्टेट भी इस नीति के अंतर्गत विकसित की जा सकती है। इस मौके पर प्रमुख सचिव आवास निर्माण और शहरी विकास अजोए कुमार सिन्हा, डिप्टी कमिश्नर संगरूर जतिंदर जोरवाल, ज्वाइंट डायरेक्टर उद्योग विश्व बंधु, चीफ टाउन प्लानर पंकज बावा, जीएमडीआईसी सुबोध जिंदल और बड़ी संख्या में उद्योगपति और व्यापारी भी उपस्थित थे।