Multi Task Worker: मल्टी टास्क वर्कर्ज को पगार नहीं, 4500 रुपए प्रतिमाह देने पर भी सरकार हट रही पीछे

By: Nov 24th, 2022 10:55 pm

4500 रुपए प्रतिमाह देने पर भी सरकार हट रही पीछे , तीन माह से झेल रहे परेशानी

मुकेश कुमार-सोलन

आपको रोजगार तो मिल जाए, लेकिन वेतनमान नहीं तो आप पर क्या गुजरेगी। जी हां कुछ ऐसा ही मामला लोक निर्माण विभाग में भर्ती किए गए हजारों मल्टी टास्क वर्कर्ज को लेकर सामने आया है। लोक निर्माण विभाग में भर्ती किए गए 5000 मल्टी टास्क वर्कर्ज को अभी तक वेतनमान नहीं मिला है। भर्ती हुए करीब तीन माह का लंबा समय बीत चुका है। अगर समय रहते वेतनमान नहीं मिलता तो मल्टी टास्क वर्कर्ज आंदोलन की राह भी पकड़ सकते हैं। नौकरी मिलने के बाद सभी वर्कर्ज विभाग के दिशा-निर्देशों पर काम करते आ रहे हैं। लोक निर्माण विभाग में तैनात वर्करों को 4500 रुपए प्रतिमाह देने की बात कही गई है। इनकी भर्ती को लगभग तीन महीने का समय बीत जाने के बाद भी वेतनमान न मिलना प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्र चिन्ह लगाता है। विडंबना देखिए कि हजारों की तादाद में भर्ती इन वर्कर्ज को दीपावली सहित अन्य त्योहार बिना पगार के ही मनाने पड़े। इन वर्कर्ज को मायूस चेहरे के साथ घर लौटने पर मजबूर होना पड़ रहा है। हिमाचल युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव शशिकांत ने लोक निर्माण विभाग में भर्ती हजारों मल्टी टास्क वर्कर्ज को अभी तक वेतन न मिलना दुखदाय विषय है। उन्होंने कहा कि यदि विभाग द्वारा इन्हें वेतन देने में देरी की जाती है तो सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़ा जाएगा। एचडीएम