बनीखेत में सजी कवियों की महफिल

 एनएचपीसी क्षेत्रीय कार्यालय में कवि सम्मेलन के दौरान फनकारों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों से बांधा समां

बनीखेत –एनएचपीसी क्षेत्रीय कार्यालय बनीखेत में कवि सम्मेलन व हिंदी पखवाड़ा समापन समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में कार्यपालक निदेशक रूपक जैन तथा उनकी धर्मपत्नी रीता जैन ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। कवि सम्मेलन का शुभारंभ मुख्यातिथि कार्यपालक निदेशक रूपक जैन व रीता जैन तथा कवियों ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। इस दौरान केंद्रीय विद्यालय के बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। मुख्यातिथि ने सभी कवियों को टोपी व शाल पहनाकर सम्मानित किया। कवि सम्मेलन में जिला चंबा के जाने-माने कवि बलदेव मोहन खोसला, अशोक दर्द, जगजीत आजाद, सुभाष साहिल तथा उपासना पुष्प ने अपनी रचनाएं पेश की। अशोक दर्द ने अपनी प्रसिद्ध पहाड़ी कविता कविए दी लाड़ी द्वारा सभी श्रोताओं का खूब मनोरंजन किया। बलदेव खोसला जी ने राजभाषा हिंदी तथा एनएचपीसी पर अपनी कविता प्रस्तुत की। सम्मेलन में अन्य कवियों ने नारी शक्ति के विकास तथा सामाजिक भाईचारे पर अपनी कविताएं प्रस्तुत करके समां बांधा। मुख्यातिथि रूपक जैन ने सभी कवियों की रचनाओं की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उन्होने कहा हमारे समाज में कवियों का महत्त्वपूर्ण स्थान है। रुपक जैन ने साथ ही सभी को हिंदी दिवस की बधाई दी और कहा कि हिंदी हमारी राजभाषा है और हमें इसका सम्मान करना चाहिए। उधर, हिंदी पखवाड़े के दौरान क्षेत्रीय कार्यालय में भाषण, हिंदी काव्य पाठ, शब्दावली ज्ञान, हिंदी टाइपिंग, नोटिंग, ड्राफ्टिंग एवं श्रुतलेखन तथा सुलेख इत्यादि विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया गया। इन प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को मुख्यातिथि रूपक जैन द्वारा पुरस्कृत किया गया। सर्वाधिक हिंदी में कार्य करने के विद्युत एवं यांत्रिक विभाग को राजभाषा शील्ड प्रदान की गई। मुख्यातिथि ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले केंद्रीय विद्यालय के बच्चों को भी पुरस्कृत किया। इस अवसर पर महाप्रबंधक वित्त प्रभाकर दास, महाप्रबंधक मासं जान एयू बेक, महाप्रबंधक चिकित्सा सेवाएं,  उपमहाप्रबंधक मासं आरपी मौर्य, उप महाप्रबंधक वित्त एके जैन सहित क्षेत्रीय कार्यालय के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

You might also like