Only three years after our Constitution was adopted, its chief architect, BR Ambedkar, publicly disowned it in Parliament. In an astonishing admission in 1953, he blurted out in the Rajya Sabha:

धर्मशाला में  मरीज टांडा लेकर जा रही थी एम्बुलेंस से टकराई पंजाब रोडवेज़ की बस, बारिश में ब्रेक न लगना...

मुंबई के अंधेरी इलाके में मंगलवार सुबह एक बड़ा हादसा हुआ. यहां एक रोड ओवरब्रिज का स्लैब गिर गया, जिसके...

मनाली—मनाली में हेलिटैक्सी सेवा के लिए रास्ता साफ हो गया है। सरकार को वशिष्ठ में हेलिपैड बनाने के लिए अब...

घुमारवी, कालाअंबं—थाना घुमारवीं के तहत पड़ने वाली एक गांव की विधवा महिला ने गांव के ही 33 वर्षीय युवक पर...

मंडी पहुंची टीम ने वृद्ध आश्रम सुकेत, दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र का किया दौरा मंडी—भारत स्काउट्स एंड गाइड्स एसोसिएशन छत्तीसगढ़ राज्य...

यशपाल शर्मा विधानसभा सचिव शिमला—प्रदेश प्रशासनिक सेवा कैडर 1999 बैच के अधिकारी यशपाल शर्मा ने मंगलवार को विधानसभा सचिव के...