गौण न बनाएं प्रगति की प्राथमिकताएं

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं हर दिन मीडिया सरकार के खिलाफ कई छोटे-मोटे मुद्दों को लाइमलाइट में लाकर रख देता है, जिसका लेखकों और विश्लेषकों की मंडली में भी बड़े चाव के साथ स्वागत किया जाता है। आज…

समापन की ओर केजरीवाल युग

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं जिस तरह से भारतीय राजनीतिक परिप्रेक्ष्य में केजरीवाल अप्रासंगिक होते जा रहे हैं, वहां से केजरीवाल युग का अंत करीब दिखने लगा है। एक के बाद एक हार के लिए उन्होंने ईवीएम…

छोड़ना होगा ‘पहले मैं’ का दृष्टिकोण

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं आज भी हम हर क्षेत्र में कुछेक लोगों को शेष समाज से ज्यादा महत्त्वपूर्ण मानने की परंपरा को ढो रहे हैं। आज सामाजिक और राजनीतिक पदानुक्रम में हर कोई ‘पहले मैं’ की दौड़ में…

लोकतंत्र को सशक्त विपक्षी नेताओं की जरूरत

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं विभिन्न राजनीतिक दल अपनी रणनीति की विवेचना करने के बजाय अब तक पूरी तरह से नाकाम रहे महागठबंधन के पीछे आंखें मूंदकर कदमताल करते रहे हैं। मोदी के विजय रथ को रोकने के लिए…

क्या आत्मघात से बच पाएगी कांग्रेस-2

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं कांग्रेस में एक दोष संगठन को गढ़ने में विफलता और वफादार दरबारियों पर बढ़ती निर्भरता को माना जाएगा। संगठन में आंतरिक लोकतंत्र के लिए यहां न तो वास्तविक चुनाव करवाए जाते…

आत्मघात से बच पाएगी कांग्रेस ?

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं कांग्रेस पार्टी की कार्यशैली में पांच खामियां स्पष्ट तौर पर देखी जा सकती हैं और इन्हें बिना वक्त गंवाए दूर करने की महत्ती जरूरत है, लेकिन पार्टी में कोई भी इसको लेकर…

प्रतिष्ठा प्रतीकों के प्रदर्शन पर लगे नकेल

प्रो. एनके सिंह प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं यदि मोदी साफ-सुथरा प्रशासन लाना चाहते हैं, तो उन्हें कार्यालयों में दिखावे और तड़क-भड़क भरी संस्कृति पर नकेल कसनी होगी। अधिकारियों, विधायकों और सांसदों…

विपक्षी दलों में बढ़ती कुंठा

प्रो. एनके सिंह (लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं) कांग्रेस ने चुनावों को लेकर जो बड़े-बड़े सपने देख रखे थे, पंजाब को छोड़कर वे हर कहीं चूर-चूर हो गए। राहुल गांधी भी कांग्रेस को मिली हार की जिम्मेदारी लेने के लिए आगे…

सार्वजनिक संवाद में बढ़ती तुच्छता

प्रो. एनके सिंह (लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं) हाल ही में एक और मुद्दाविहीन खबर मीडिया चैनलों पर पूरी तरह से हावी रही, जिसमें एक लड़की हाथ में तख्ती लहराते हुए एक लड़की बताती है, ‘पाकिस्तान ने मेरे पिताजी को नहीं…

विकास करने वाली पार्टी की तलाश

प्रो. एनके सिंह ( प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं ) आज भी कोई ऐसा दल नजर नहीं आता, जो उदारवादी और साफ-सुथरी व्यवस्था की कामना करने वाले लोगों को आकर्षित करे। ये लोग आज भी एक ऐसे दल की तलाश में हैं, जो…

यूपी चुनाव में सेकुलरिज्म का स्वांग

प्रो. एनके सिंह प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं पश्चिम बंगाल में किसी मुस्लिम कार्यक्रम के लिए पूजा-पाठ को रोक देना इस बात का संकेत है कि देश में सामान व्यवहार की जरूरत को नए सिरे से परिभाषित किया…

संस्थानों को गढ़ सकते हैं व्यक्ति

प्रो. एनके सिंह ( प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं ) एक सामान्य सी अपेक्षा रहती है कि हर संवैधानिक एवं अन्य संस्थान स्वतंत्र व पारदर्शी रूप से कार्य करे। बेशक किसी भी संगठन की ढांचागत व्यवस्था उसमें…

प्रगति एवं पारदर्शिता को समर्पित बजट

प्रो. एनके सिंह ( प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं ) मोदी के विरोध में सक्रिय विदेशी मीडिया ने भी केंद्र सरकार के बजट का समर्थन किया है। वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बजट को ‘बहुत बढि़या’ बताया है, वहीं…

भारत के लिए ट्रंप के राष्ट्रवाद का अर्थ

प्रो. एनके सिंह ( लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं ) कई समीक्षक सवाल करते हैं कि क्या इस तरह से ट्रंप सफल हो पाएंगे, लेकिन अब वह सत्ता में हैं और वही करेंगे जो उन्होंने कहा था। ट्रंपवाद के उदय से समूचा वैश्विक…

दामन में लगे कीचड़ को साफ करे सेना

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं इसमें हैरानी नहीं होनी चाहिए कि सैनिकों में इस तरह की असहमतियों को लेकर सोशल मीडिया पर विडीयो पोस्ट करने का जो सिलसिला शुरू हुआ था, उसे खत्म करने के लिए सेनाध्यक्ष को…