Browsing Category

अनुज कुमार आचार्य

नशे के सौदागरों पर लगाम कब?

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं अब नशे के कारोबारियों पर भी आतंकवाद पर सर्जिकल स्ट्राइक की तर्ज पर व्यापक प्रहार की जरूरत महसूस की जा रही है। आंकड़े तसदीक करते हैं कि वर्ष 2016-17 में जिला कांगड़ा में नशा कारोबारियों…

वायु प्रदूषण के खिलाफ जंग

अनुज कुमार आचार्य बैजनाथ भारत में वायु प्रदूषण मौत की बड़ी वजह बनता जा रहा है। 2017 में ही भारत में तकरीबन 12 लाख लोगों की मौत वायु प्रदूषण की वजह से हुई है। अमरीका के हेल्थ इफेक्ट्स इंस्टीच्यूट की वायु प्रदूषण पर एक वैश्विक रिपोर्ट…

सड़कों पर दौड़ती साक्षात मौत

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं यह सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर बढ़ते सड़क हादसों के कसूरवार इन बस ड्राइवरों के हौसले इतने बुलंद क्यों हैं? क्या पुलिस और परिवहन अधिकारियों द्वारा सभी ड्राइवरों के वाहन परिचालन पर नजर रखी…

ज्ञान-परिश्रम से होंगे सपने साकार

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं यह जीवन सभी लोगों को समान रूप से मिला है, लेकिन मात्र कुछ लोग ही मिलने वाले अवसरों को कामयाबी में बदल कर दूसरों के लिए मिसाल पैदा करते हैं। हमें हमेशा प्रगति की ओर बढ़ने के लिए और बदलाव के लिए तैयार…

चुनावी सीजन में बेकाबू होती महंगाई

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं अफसरों की चुनावों में व्यस्तता के कारण इन दिनों हिमाचल प्रदेश के बाजारों में महंगाई बेलगाम होती जा रही है। ऐसे लगता है जैसे फल एवं सब्जियों के विक्रेताओं में नियम-कायदे और कानून का कोई खौफ …

बैंकिंग फ्रॉड की बढ़ती समस्या

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं बैंकिंग व्यवस्था में सेंध लगाने वाले हैकर्स और साइबर अपराधियों से आम नागरिकों को होने वाले आर्थिक नुकसान से बचाने के लिए विशेष उपाय खोजने की जरूरत भी है। बैंकिंग सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों और…

पशुओं से मित्रता समय की मांग

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं आज खाद्य पदार्थों, सब्जियों, फल, चिकन-अंडे, दूध-दही इत्यादि की आपूर्ति के लिए हम पूर्णतया पड़ोसी राज्यों से आने वाली रसद पर निर्भर हैं। ऐसे में इन क्षेत्रों में परिश्रम, ट्रेनिंग और रुचि…

पपरोला होली को मान्यता कब

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं बैजनाथ के प्रवेश द्वार पपरोला का ऐतिहासिक एवं धार्मिक महत्त्व बेहद प्राचीन है। पपरोला शहर राजकीय स्नातकोत्तर आयुर्वेदिक महाविद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय, बैजनाथ फार्मेसी, सत्यनारायण मंदिर, राम…

मर्यादाओं को शिक्षक भी समझें

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं यहां अल्फ्रेड एडलर का कथन भी दृष्टव्य है ‘बुद्धिमान व्यक्तियों की प्रशंसा की जाती है, धनवान व्यक्तियों से ईर्ष्या की जाती है, बलशाली व्यक्तियों से डरा जाता है, लेकिन विश्वास केवल चरित्रवान…

आतंकवाद से आजादी कब ?

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के लेथपोरा इलाके में जैश ए मोहम्मद के आतंकी आदिल अहमद द्वारा एक गाड़ी के द्वारा सीआरपीएफ जवानों से भरी बस के साथ किए गए फिदायीन विस्फोट हमले में सीआरपीएफ के 43 से…

विकासपरक बजट की जरूरत

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं इसी वर्ष जून में सरकार ‘राइजिंग हिमाचल’ नाम से इन्वेस्टर मीट भी आयोजित करने जा रही है। वाइब्रेंट गुजरात की तर्ज पर इस मेगा इवेंट के सफल आयोजन से निस्संदेह देश-विदेश के बड़े निवेशकों के हिमाचल…

लाभकारी है मिड-डे-मील योजना

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं हिमाचल प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छठी से आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को मिड-डे-मील योजना के तहत दोपहर का भोजन दिया जा रहा है। इस योजना के लागू होने से सरकारी स्कूलों में पढ़ने…

सैनिक स्कूल छात्रवृत्ति रोकना वाजिब नहीं

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं हिमाचल प्रदेश के निजी शैक्षणिक संस्थानों में अढ़ाई सौ करोड़ के छात्रवृत्ति घोटाले की जांच का जिम्मा तो प्रदेश सरकार ने सीबीआई को सौंप दिया है, लेकिन पिछले तीन शैक्षणिक सत्रों से सैनिक स्कूल सुजानपुर…

नशे में डूबती हिमाचल की जवानी

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं दुख तब और ज्यादा बढ़ जाता है जब हम अपनी युवा पीढ़ी को नशे का आदी बनकर उन्हें बर्बाद होते देखते हैं। हिमाचल का युवा फौज में जाकर राष्ट्र सेवा करने वाला रहा है, लेकिन आजकल सेना की भर्तियों में…

वेतन आयोग के पक्ष में जयराम सरकार

अनुज कुमार आचार्य लेखक, बैजनाथ से हैं हिमाचल प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों के परिवारों सहित वोटरों की संख्या काफी ज्यादा है, लिहाजा समय-समय पर प्रदेश  की सरकारें अपने कर्मचारियों के हित में फैसले लेती आई हैं। कर्मचारियों की अन्य…