चक दे हिमाचल

लाल चावल के उत्पादन पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दस लाख, प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह से नवाजे कार्यालय संवाददाता-पालमपुर लाल चावल के उत्पादन से जुड़े रोहडू के किसानों को श्रेणी में देश के सर्वोच्च ‘प्लांट जीनोम सेवियर अवार्डÓ से नवाजा गया। रेड राइस फार्मर्स सोसायटी, रोहडू का प्रतिनिधित्व करते हुए प्रधान

समाजसेवी विजय डोगरा ने दी बधाई दिव्य हिमाचल ब्यूरो-धर्मशाला वीरभूमि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के नूरपुर से संबंध रखने वाले वीरेंद्र सिंह पठानिया को रक्षा मंत्रालय ने अहम जिम्मेदारी देते हुए उन्हें भारतीय सेना के अहम अंग भारतीय तट रक्षक बल का अतिरिक्त महानिदेशक नियुक्त किया है। दिल्ली में विभिन्न प्रवासी हिमाचली संस्थाओं से

नीलकांत भारद्वाज — हमीरपुर राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) हमीरपुर के एक और छात्र को तीन माह के भीतर ही एक करोड़ रुपए से अधिक का सालाना पैकेज मिला है। बीटेक (कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग) के अंतिम वर्ष के इस छात्र प्रतीक भरत शर्मा को अमेजॉन बर्लिन (जर्मनी) से 1.12 करोड़ रुपए के वार्षिक वेतन पैकेज

पौधों की किस्मों के संरक्षण और विकास में उनके योगदान हेतु दिए जाने वाले भारत के सर्वोच्च पुरस्कार पर कब्जा जयदीप रिहान—पालमपुर पौधों की किस्मों के संरक्षण और विकास में उनके योगदान हेतु किसानों को दिए जाने वाला भारत का सर्वोच्च पुरस्कार रोहड़ू (शिमला) के लाल चावल उत्पादक किसानों ने अपने नाम किया है। ‘पौध

भोटा। हमीरपुर जिला के सलौनी क्षेत्र की करेर पंचायत के युवा वैज्ञानिक रक्षा अनुसंधान में अपना योगदान देकर जिले का नाम रोशन कर रहे हैं। राजेश कुमार इस समय रक्षा अनुसंधान हैदराबाद में परियोजना उपनिदेशक पद पर अपनी सेवाएं दे रहे हंै। राजेश कुमार ने बताया कि 125 केजी स्वदेशी निर्मित स्मार्ट एंटी एयर फील्ड

टीम — मंडी, चंडीगढ़ मंडी के केहनवाल निवासी हेमराज को मुंबई में नेल्सन मंडेला नोबेल पीस अवार्ड से नवाज़ा गया और डॉक्ट्रेट की उपाधि दी गई। प्रदेश में डिजिटल क्रांति लाने व हजारों युवाओं को आधुनिक और डिजिटल युग से अवगत कराने के लिए नेल्सन मंडेला नोबेल पीस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। हेम

ऊना के संदीप राणा वर्क वीजा के लिए निकले थे नीदरलैंड, अब डच टीम के स्टार रेडर सिटी रिपोर्टर — हरोली घर से विदेश में काम की खोज के निकले संदीप राणा आज डच टीम के जाने-मानें खिलाड़ी बन गए हैं। 20 साल पहले जो सपना भारत में पूरा नहीं हो पाया, उस सपने को

भराड़ी। जिला बिलासपुर उप तहसील भराड़ी के गांव मिहाड़ा बुसाड़ निवासी डा. अनिल शर्मा सुपुत्र ओम प्रकाश शर्मा ने विश्व के दो प्रतिशत वैज्ञानिकों की सूची में एक बार फिर से अपना नाम दर्ज करवा कर लोहा मनवाया। यह लिस्ट स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी ने प्रकाशित की है। डा. अनिल शर्मा के बायो साइंस व कैंसर जीव

ब्यूरो — बिलासपुर बिलासपुर, जिला के रघुनाथपुरा गांव में पली-बढ़़ी कीर्ति सिंह चंदेल सिंगापुर में अपनी निजी कंपनी की प्रमुख हैं। वह अपनी योग्यता के बल पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की तकनीक पर जबरदस्त तरीके से काम करके सिंगापुर में पर्यटन, उद्योग और स्वास्थ्य सेवाओं पर काम कर रही हैं। जी हां सरलतम शब्दों में कहें