Browsing Category

अपनी माटी

मोदी और किसानों की दोस्ती में दरार

कइयों को 4 हजार, तो कइयों को अंडा लोकसभा चुनावों से पहले पिछली मोदी सरकार ने किसान सम्मान निधि योजना लागू की थी। इस योजना के तहत एक बिस्वा से लेकर सैकड़ों बिस्वा के मालिक किसान को साल में 6 हजार रुपए दिए जाने हैं। चुनावों से पहले मोदी…

कटहल-नींबू और गरने का क्रेज

बरसात के मौसम में समूचे देश में पौधे रोपे जा रहे हैं। लेकिन हिमाचली इस मामले में औरों से डिफरेंट हैं। वे यूं ही हर कुछ नहीं रोपते। वे पौधों को परखते हैं, उनका भविष्य देखते हैं,उसके बाद ही बूटे को अपनी बगिया में जगह…

हिमाचल सरकार लेगी आठ रुपए किलो सेब

राज्य सरकार ने इस वर्ष के दौरान राज्य में सेब की खरीद के लिए मंडी मध्यस्थता योजना यानी एमआईएस को लागू करने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। इस योजना को 20 जुलाई से 31 अक्तूबर तक लागू किया जाएगा। इस योजना के तहत लगभग 1.48 लाख मीट्रिक टन सेब…

बागबानों को किराए पर ट्रैक्टर और आरियां

हिमाचल में सेब सीजन जोरों पर है। आढ़तियों से लेकर क्लेक्शन सेंटरों तक जयराम सरकार की पैनी नजर है। सरकार अब बागबानों को एक और बड़ा तोहफा देने जा रही है। अपनी माटी के लिए शिमला से हमारे विशेष संवाददाता शकील कुरैशी ने महेंद्र सिंह से…

सीएम का किसानों से प्रोमिस खेतों के बिकवा दूंगा सारी फसल

हिमाचल के 10 लाख किसानों के लिए उम्मीदों भरा समाचार है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि प्रदेश सरकार फसलों को मंडियों तक ले जाने का इंतजाम खुद करने जा रही है। जिन स्थानों पर ऐसा नहीं हो पाएगा, वहां खेत में ही साग-सब्जी को बिकवा दिया…

किसानों के पीछे 200 किस्म के कीड़े

हिमाचल में धान की 80 फीसदी खेती पानी पर निर्भर रहती हैं। करीब 6 माह तक हिमाचली किसान पानी या फिर कीचड़ सने खेतों में काम करता है। ...लेकिन यह पहाड़ी प्रदेश के किसानों का दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि बरसात के दिनों में काम के दौरान हिमाचल सरकार…

सेब से पहले पलम का तहलका

सेब सीजन से पहले हिमाचल में प्लम ने तहलका मचा दिया है। आलम यह है कि शिमला की भट्टाकुफर फल मंडी में ही प्लम 100 रुपए किलो बिक रहा है। अपनी माटी के लिए ठियोग से हमारे कार्यालय संवाददाता रोहित सेम्टा ने भट्टाकुफर मार्केट का दौरा…

एक्सपर्ट की सलाह, डरें नहीं, खूब खाएं लीची

जानलेवा बीमारी से वहां कई बच्चों की मौत हो चुकी है। हर ओर भ्रम फैलाया जा रहा था कि लीची के कारण यह बीमारी फैली। यही वजह है कि इस सबका असर हिमाचल में लीची के कारोबार पर पड़ा है। असर इतना बुरा हुआ है कि हिमाचल में इस सीजन में लीची का कारोबार…

हिमाचल में फसल बीमा योजना कटघरे में

हिमाचल में फसल बीमा योजना पर बड़ा सवालिया निशान लग गया है। मौजूदा समय में एक लाख इकसठ हजार किसानों ने बीमा करवा रखा है, लेकिन उन्हें फसल के नुकसान पर किसी तरह का मुआवजा नहीं मिल रहा। अब इस मसले पर किसान संघर्ष समिति मुखर हो गई…

पंजाब से गुजरात तक हिमाचली प्लम-खुमानी की धूम

हिमाचली स्टोन फ्रूट ने इस बार देश भर की मंडियों में धूम मचा दी है। प्लम हो या खुमानी, बादाम हो या फिर चेरी हर फल को भरपूर दाम मिल रहे हैं। अपनी माटी के इस अंक में हमारी टीम ने स्टोन फ्रूट का जायजा लिया। तो पता चला कि अकेले ढली मंडी से…

बागबानों को बागबाग करेगा सेब 

2010 में 4 करोड़ सेब पेटी पैदावार हिमाचल में वर्ष 2010 में सेब की बंपर क्रॉप हुई थी। उस दौरान 4 करोड़ के लगभग सेब बॉक्स मार्केट में पहुंचे थे। जबकि 2016 में यह दर 2.35 करोड़ सेब बॉक्स और 2017 में 2.79 करोड़ सेब बॉक्स रहे। अब इसके…

पहली जीरो बजट गेहूं तैयार रेट 50 रुपए किलो

पालमपुर -जीरो बजट प्राकृतिक खेती विधि के तहत गेहूं पर किया गया पहला टयल सफल रहा है। पालमपुर के भट्टूं क्षेत्र में बंसी किस्म की गेहूं का बीज लगाया गया था, जिसके परिणामों से विभाग उत्साहित है। प्रदेश में प्राकृतिक तरीके से…

करंट से मौत पर अब तीन लाख मुआवजा

महकमे की मांग पर प्रदेश सरकार ने बढ़ाया बजट... खेती कार्य के दौरान करंट से मौत पर पीडि़त किसान परिवार को अब तीन लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा। प्रदेश सरकार ने इसके लिए बजट बढ़ा दिया है। अपनी माटी के लिए दिव्य हिमाचल द्वारा जुटाई गई जानकारी के…

सुने लें किसान धान के सबसे बेहतर बीज ये रहे

हिमाचल के मैदानी इलाकों में गेहूं की थ्रेशिंग खत्म हो गई है, जबकि पहाड़ी एरिया में यह काम जोरों से चल रहा है। अब धान का सीजन शुरू होने वाला है। ऐसे में किसान जानना चाह रहे हैं कि वे इस बार धान की कौन सी किस्में रोपें जिससे पैदावार डबल हो…

क्विंटल गेहूं की़ 210 रुपए कटाई किसान बोले, कहां जाएं भाई

प्रदेश में थ्रेशिंग के नाम पर किसानों से लूट का खेल चल रहा है, लेकिन कोई भी उनकी फरियाद सुनने वाला नहीं है। गौर रहे कि इस बार 1840 रुपए प्रति क्विंटल गेहूं बिक रही है... देश में किसानों की आय डबल करने के लिए हमारे नेता हर रोज नए नए…