himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

हैड मसाज के फायदे

दिन भर के काम के बाद थकान हमारें पूरे शरीर पर हावी रहती है। ऐसे में थकान के कारण दिमाग कुछ भी सोच पाने की स्थिति में नहीं होता। शरीर में एनर्जी लौटाने के लिए थोड़ा सा आराम और मसाज मददगार साबित हो सकती है। क्या आप जानती हैं कि मसाज आपके लिए…

मोह से मुक्ति

बाबा हरदेव वैराग्य का अर्थ है कि जहां न राग रहा न वैराग्य रहा, न किसी चीज का आकर्षण न विकर्षण है। जहां पक्ष और विपक्ष एक से हो गए, वहां असल वैराग्य फलित होता है। वास्तविकता में मोह रहित वो व्यक्ति है जिसके हृदय में सद्गुरु की कृपा से मोह की…

कान में दर्द के उपाय

कई बार सर्दी, जुकाम से या कान में पानी चले जाने से  यह दर्द होता है और कई बार मैल जमा होने, इन्फेक्शन या कान में कीड़ा चले जाने से भी कान में दर्द होता है... कान का दर्द अकसर बच्चों और बड़ों को परेशान करता है। कान में दर्द की वजह से छोटे…

सीखना होगा टाइम मैनजमेंट

बच्चे के एग्जाम के 2-3 हफ्ते से पहले ही तैयारी करना शुरू कर दें। उनका पूरा सिलेबस देख कर यह निर्णय लें कि उन्हें कहां से तैयारी शुरू करवानी है। आपके बच्चे पर पढ़ाई का ज्यादा बोझ न पड़े और वह रिलेक्स होकर परीक्षा की तैयारी करे, इसके लिए अपने…

घातक हैं क्लीनर प्रोड्क्ट्स

हम सभी घर की सफाई करने के लिए बाजार से बहुत से प्रोडक्ट्स लाते हैं। इनमें से कुछ प्रोडक्ट्स ऐसे होते हैं जिनका इस्तेमाल करने से हमें बहुत सी खतरनाक बीमारियां हो जाती है। इसलिए हमें ऐसे प्रोडक्ट्स को कभी घर में नही रखना चाहिए क्योंकि इन…

ईश्वर एक है

स्वामी विवेकानंद गतांक से आगे...  भारत में इस लक्ष्य के संबंध में ये विचार हैं कि स्वर्ग है, नरक है, पृथ्वियां हैं, पर वे स्थायी नहीं हैं। यदि मैं नरक को भेजा हूं, तो वह स्थायी नहीं है, मैं चाहे कहीं भी हूं, वहीं संघर्ष निरंतर चलता रहता है।…

भूत-प्रेत के अस्तित्व का विश्लेषण

बिना शरीर वाली आत्मा एकल आयाम की हो गई। हठात कोई देख ले तो...वही भूत-प्रेत है? प्रश्न यह है कि हठात क्यों? हर समय क्यों नहीं? इसका सटीक उत्तर है कि एकल आयाम की वस्तु देखने के लिए स्थिति विशेष चाहिए... गतांक से आगे... वह पुनर्जन्म, मोक्ष या…

अनमोल वचन

*संतोष पूर्ण प्रयास से मिलता है, न कि फल प्राप्ति से, पूरा प्रयास ही विजय है *सीढि़यों की जरूरत उनको पड़ती हैं जिन्हें छत तक ही जाना हो। यदि आपकी मंजिल आकाश है, तो आपको खुद रास्ता बनाना होगा *जीत हमारे जीवन में प्रसन्नता लाती है और हार…

गीता रहस्य

स्वामी रामस्वरूप परमात्मा इस सृष्टि का स्वामी है। वह सृष्टि को उत्पन्न करके पालना एवं संहार करता है। रचना, पालना, प्रलय एवं जीवों को कर्मानुसार शरीर देना यह सब परमात्मा के अधीन है। इन सभी व्यवस्थाओं को श्रीकृष्ण महाराज ने अनुशासितारम पद में…

कालिका सहस्रनाम

-गतांक से आगे... विद्या-धरी वसु-मती यक्षिणी योगिनी जरा। राक्षसी डाकिनी वेद-मयी वेद-विभूषणा-26 श्रुति-स्मृतिर्महा-विद्या गुह्य-विद्या पुरातनी। चिंताऽचिंता स्वधास्वाहा निद्रातंद्रा च पार्वती-27 अर्पणा निश्चला लीला सर्व-विद्या-तपस्विनी। गङ्गा…

भाई-बहन एक साथ नहीं जाते इस मीनार के ऊपर

इस मीनार का निर्माण मथुरा प्रसाद नाम के एक व्यक्ति ने कराया था जो कि रामलीला में रावण के किरदार को दशकों तक निभाते रहे। रावण का पात्र उनके मन में इस कदर बस गया कि उन्होंने रावण की याद में लंका का निर्माण करा डाला... उत्तर प्रदेश के जालौन…

आत्म पुराण

उसी प्रकार यह पुरुष बुद्धि रूप नौका द्वारा सहज में जागृत रूपी नदी को पार कर लेता है। अब जाग्रत अवस्था में स्थूल शरीर के तादाम्य अध्यास से उत्पन्न नाना प्रकार के दुखों पर विचार करते हैं। हे जनक! जैसे माता के उदर से बालक बाहर निकलता है, वैसे…

क्यों कटा गणेशजी का सिर

पौराणिक कथाओं में कहा जाता है कि एक बार शिवजी ने अपने पुत्र गणेश का सिर त्रिशूल से काट दिया था। मगर, क्या आप जानते हैं कि ऐसा करने की स्थिति क्यों बनी थी। वह क्या श्राप था, जिसकी वजह से भोलेनाथ को भी पीड़ा उठानी पड़ी। आज हम आपको इसी रहस्य…

दादी मां के नुस्खे

* सर्दियों में ठंड की वजह से चेहरे, हाथों और पैरों की  त्वचा फटने लगती है। ऐसे में नारियल के तेल में ग्लिसरीन को मिलाकर सुबह-शाम दोनों समय इससे मालिश करें। *   रोज दो-तीन बार प्याज के रस को मस्सों पर लगाने से मस्से जड़ से खत्म हो जाएंगे। *…

सभी पंथों में पूज्य हैं जाहरवीर गुग्गा

राजस्थान में हनुमानगढ़ जिले का गोगामेड़ी शहर है, जहां भादो शुक्लपक्ष की नवमी को गुग्गाजी का मेला लगता है। इन्हें सभी धर्मों के लोग पूजते हैं। वीर गुग्गाजी गुरु गोरखनाथ के परम शिष्य थे। चौहान वीर गुग्गाजी का जन्म चुरू जिले के ददरेवा गांव में…
?>