डा. वरिंदर भाटिया

बात 1944 की है, जब नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने सिंगापुर में एक रेडियो संदेश प्रसारित करते हुए महात्मा गांधी को पहली बार राष्ट्रपिता कहकर संबोधित किया था। आज़ाद हिंद रेडियो पर अपने भाषण के माध्यम से महात्मा गांधी जी को संबोधित करते हुए नेता जी ने जापान से सहायता लेने का अपना कारण और

केरल की घटना आटे में नमक समान ही लगती है। परदे के पीछे शायद आसपास बहुत कुछ हो रहा है जो सामने नहीं आता। ऐसे में क्या पार्टनर स्वैप के विकृत चलन को लेकर भारतीय समाज को अपने विचार बदलने की ज़रूरत है या नहीं? यह सब विकासशील समुदाय के लिए बड़ी चुनौती है… फ्रंट

जवाब में पाया कि विद्यार्थियों ने शैक्षणिक सत्र 2011-12 से 2016-17 के दौरान कर्मचारियों के खिलाफ यौन उत्पीडऩ, लैंगिक आधार पर दुव्र्यवहार और हिंसा के करीब 169 आरोप लगाए। जबकि इसी तरह के 127 आरोप साथी कर्मचारियों के खिलाफ भी लगाए गए। सैकड़ों पीडि़तों ने कहा कि रोजाना उन्हें आधिकारिक तौर पर शिकायत नहीं करने

नकल करने की प्रवृत्ति से छात्रों का भविष्य बिगड़ रहा है। इसके लिए शिक्षा जगत से जुड़े सभी लोगों को शिक्षा के साथ जोड़ने का सकारात्मक रास्ता खोजना चाहिए, ताकि नकल कराने के लिए दीवारों पर चढ़ने की जरूरत न पड़े। हमें ऐसा कोई रास्ता निकालना चाहिए कि हमारे छात्र परीक्षा के डर से आज़ाद

किताबों के शौकीन लोगों के लिए ऑनलाइन यानी ई-लाइब्रेरी किसी तोहफे से कम नहीं है। आज के युग में डिजिटल मोड से जुड़े लर्निंग के सभी साधनों का उपयोग हमें स्पर्धा में आगे रखेगा। 5जी की शुरुआत होने वाली है। ई-लाइब्रेरी के फैलाव से हम सबके लिए ई-लर्निंग में एक नई क्रांति की शुरुआत होगी…

दो मंजिला इमारत सांस्कृतिक गतिविधियों के लिए है। विश्वनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं के लिए योग और ध्यान केंद्र के रूप में वैदिक केंद्र को स्थापित किया गया है। धाम क्षेत्र में बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए स्पिरिचुअल बुक सेंटर धार्मिक पुस्तकों का नया केंद्र होगा। श्रद्धालुओं के लिए बाबा की भोगशाला भी

बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्रों के बार-बार बनने या अरब सागर में चक्रवात के कारण नवंबर के पहले सप्ताह से पूर्वोत्तर मानसून के दौरान भारी बारिश के कारण टमाटर की फसल को नुकसान हुआ है, जिससे टमाटर की फसल खराब हो गई और आपूर्ति बाधित हुई। दक्षिण भारत में जबरदस्त बारिश होने

उन्होंने एक बार पुणे में भाषण देते हुए हिंदुत्व के बारे कहा था, ‘मैं  हिंदू  हूं, ये मैं कैसे भूल सकता हूं? किसी को भूलना भी नहीं चाहिए। मेरा हिंदुत्व सीमित नहीं है, संकुचित नहीं है, मेरा हिंदुत्व हरिजन के लिए मंदिर के दरवाजे बंद नहीं कर सकता है। मेरा हिंदुत्व अंतरजातीय. अंतरप्रांतीय और अंतरराष्ट्रीय

राजनीति का सबसे घटिया पक्ष वादाखिलाफी और ‘यूज एंड थ्रो’ है। घोषणापत्र में जो वादे किए जाते हैं, 50 फीसदी भी पूरे नहीं होते। जनता से वोट मांगते समय नेता बकरी की तरह मिमियाते हैं और जब जीत जाते हैं तो वही नेता शेर की तरह दहाड़ता है। जनता को जो सपने दिखाए जाते हैं,

अकेले भारत में ही 3.5 करोड़ लोगों पर खतरा मंडरा रहा है। भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई का कमोबेश सफाया हो सकता है। शहर के अधिकांश हिस्सों में साल दर साल बाढ़ आएगी और इस क्षेत्र के कुछ हिस्सों के 2100 तक बाढ़ में डूबने का खतरा है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने भी भारत के