चरणबद्ध तरीके से शराब मुक्त हो देश

( पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं ) सवाल यह है कि क्या नशाबंदी गलत हैं ? क्या सरकारों को नशे के व्यापार पर रोक नहीं लगानी चाहिए ? नहीं, ऐसा कदापि नहीं है, पर यह आवश्यक है कि हम समस्या की जड़ तक जाएं। एक राज्य अथवा…

रक्षा तंत्र को सुरक्षा की जरूरत

(पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं) पहले हर आयुध डिपो आबादी से काफ ी दूर होता था, लेकिन अब जमीन घटने और आबादी बढ़ने के कारण इस नियम का पालन भी कड़ाई से नहीं हो रहा है। सवाल यह है कि हम कब तक गफलत का जीवन जीते रहेंगे…

पंजाब और यूपी में होगी प्रशांत की परीक्षा

(पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं) प्रशांत किशोर फिर चर्चा में हैं, लेकिन मीडिया के इस शोर में यह तथ्य दब गया है कि पंजाब में कांग्रेस के कई धड़े हैं और सबसे बड़े धड़े के नेता होने के बावजूद कैप्टन अमरेंदर सिंह…

एक नए ‘अन्ना’ का इंतजार

(पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं) देश में अभी तक ई-गवर्नेंस नहीं आई है और जहां है, वहां भी नौकरशाही की मनमानियां कई अन्य तरीकों से जाहिर हैं। अब जनता को फिर से अन्ना हजारे जैसे किसी निष्कलंक समाजसेवी की प्रेरणा की…

चरणबद्ध तरीके से शराब मुक्त हो देश

(पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं) सवाल यह है कि क्या नशाबंदी गलत है? क्या सरकारों को नशे के व्यापार पर रोक नहीं लगानी चाहिए ? नहीं, ऐसा कदापि नहीं है, पर यह आवश्यक है कि हम समस्या की जड़ तक जाएं। एक राज्य अथवा कुछ…

पी.के.खुराना

पी.के.खुराना, दिव्य हिमाचल परिवार के उन लोगों में शामिल हैं जिन्होंने इस पौधे को रोपा और सींचा। 'दिव्य हिमाचल' के लांच के समय वे इसके मार्केटिंग डायरेक्टर थे। इंडियन एक्सप्रेस, हिंदुस्तान टाइम्स, दैनिक जागरण, पंजाब केसरी और दिव्य हिमाचल…

रक्षा तंत्र को सुरक्षा की जरूरत

पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं पहले हर आयुध डिपो आबादी से काफी दूर होता था, लेकिन अब जमीन घटने और आबादी बढ़ने के कारण इस नियम का पालन भी कड़ाई से नहीं हो रहा है। सवाल यह है कि हम कब तक गफलत का जीवन जीते रहेंगे…