himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

बज्रेश्‍वरी देवी शक्तिपीठ

जब भगवान विष्णु ने सती के शरीर को अपने सुदर्शन चक्र से 51 भागों में काट दिया, तो सती के शरीर के ये 51 अंग जहां-जहां गिरे वहां शक्तिपीठ स्थापित हो गए। कहा जाता है कि कांगड़ा में सती का वाम वक्ष स्थल गिरा तथा यह बज्रेश्वरी शक्तिपीठ कहलाया ...…

अध्यात्मिक विकास को रॉकेट जैसा संवेग चाहिए

लोगों को मनचाही चीज इसलिए नहीं मिलती कि वे उसकी कामना करते हैं, बल्कि इसलिए मिलती है कि वे अपनी जिंदगी के साथ सही चीजें करते हैं। कोई भी व्यक्ति अपनी जिंदगी में जो भी चाहता है, चाहे वह आध्यात्मिक हो या भौतिक, उसे वह चीज सिर्फ इसलिए नहीं मिल…

चुकंदर के फायदे

चुकंदर एक ऐसा फल है, जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। जिस प्रकार हम अनार को स्वास्थ्य के लिए लाभकारी मानते हैं, उसी प्रकार चुकंदर होता है, बल्कि ये अनार से भी ज्यादा फायदेमंद होता है। चुकंदर को एक सब्जी के रूप में भी माना जाता है।…

विष्णु पुराण

हे ब्राह्मण! फिर महर्षियों ने सर्वत्र बड़ी धूल उड़ती हुई देख कर अपने पास खड़े हुए लोगों से पूछा कि यह क्या है? तब उन्होंने उत्तर दिया कि इस समय राष्ट्र राजा रहित हो गया, इसलिए दीन, दुःखी मनुष्यों ने धनवानों को लूटना आरंभ कर दिया है... यतश्च…

दादी मां के नुस्खे

* डेंगू के बुखार से राहत पाने के लिए नारियल पानी खूब पिएं। इसमें मौजूद जरूरी पोषक तत्त्व जैसे मिनरल्ज और इलेक्ट्रोलेट्स शरीर को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। *   तुलसी के पत्तों को गर्म पानी में उबाल लें और फिर इस पानी को पिएं। ऐसा करने से…

समुद्र मंथन

भगवान शिव की विभिन्न कथाओं का वर्णन शिव पुराण मे मिलता है। भगवान शिव के अनेकों कथाओं में से समुद्र मंथन की कथा भी एक है। एक बार शिवजी के दर्शनों के लिए दुर्वासा ऋषि अपने शिष्यों के साथ कैलाश जा रहे थे। मार्ग में उन्हें देवराज इंद्र मिले।…

जानलेवा हो सकते हैं गले के रोग

ज्यादातर केसों में यह तकलीफ उपचार से ठीक हो जाती है, किंतु बार-बार के इन्फेक्शन से या एक बार में ही ज्यादा संक्रमण हो तो गुर्दे भी फेल हो सकते हैं... हम में से बहुतों को खासकर बच्चों को अकसर सर्दी, खांसी होती रहती है। यह बहुत ही साधारण…

प्रभु के निकट

अवधेशानंद गिरि परमात्मा को जानने के लिए उपनिषद  पहले उक्त तीन अवस्थाओं को जानने के लिए कहते हैं, फिर इनके निषिद्ध स्वरूप शेष रूप तुरीयावस्था में परमात्मा का अनुभव होता है। यही अवस्था परम आनंद और शांति प्रदान करने वाली होती है... मनुष्य जन्म…

श्री विश्वकर्मा पुराण

प्रभु के चरण में से स्वर्ग के राजा इंद्र की उत्पत्ति हुई है। प्रभु के मन से चंद्र तथा नेत्रों से सूर्य उत्पन्न हुए हैं तथा प्रभु के प्राणों से वायु प्रकट हुआ है। विराट विश्वकर्मा के नाभिकमल में से आकाश तथा मस्तक में से सब देवता उत्पन्न हुए…

बच्चों में विटामिन की कमी

व्यस्त जीवनशैली वाली जिंदगी में हम छोटी-छोटी समस्याओं को अकसर नजरअंदाज कर जाते हैं। कामकाजी लोग न तो खुद को समय दे पाते हैं और न ही अपने बच्चों के लिए उन्हें ज्यादा वक्त मिल पाता है। ऐसे में कब हमारे शरीर में विटामिन की कमी के लक्षण उभरने…

जीवात्मा का स्वरूप

स्वामी विवेकानंद गतांक से आगे... कोई स्वयं अपनी मृत्यु की कल्पना भी नहीं कर सकता। आत्मा अनंत, चिरंतन है। वह मर कैसे सकती है? वह देह बदलती है। जिस प्रकार मनुष्य अपने पुराने फटे कपड़े उतार देता है और नए स्वच्छ वस्त्र धारण करता है, उसी प्रकार…

खुलकर हंसने के फायदे

हंसी मजाक से आप अपने दिल व दिमाग के बोझ को तो कम कर पाते ही हैं, साथ ही खुश रहने से आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार भी होता है। सकारात्मक रह कर आप जो काम करते हैं, उस पर बेहतर से फोकस कर पाते हैं... जब एक छोटी सी मुस्कराहट आपकी फोटो में…

महाशक्तिशाली कवच है परम शक्ति

इससे बुरे स्वप्नों का नाश होता है। इसके द्वारा स्त्री-पुरुषों का वशीकरण, आकर्षण, स्तंभन एवं मोहन आदि कर्म किए जा सकते हैं। इसको जाने बिना जो व्यक्ति श्रीविद्या की साधना करता है, वायुमंडल में भ्रमण करने वाली योगिनियां उसका भक्षण करती हैं...…

कौवे का है हिंदू धर्म से गहरा संबंध

क्या आपने कभी इस ओर ध्यान दिया है कि आखिर क्यों इस पक्षी का वर्णन अकसर हमारे पुराणों एवं ग्रंथों में आता है? आखिर क्या संबंध है कौवे का हिंदू धर्म से? यहां तक कि जब हम अपने पितरों का श्राद्ध इत्यादि करते हैं, तब भी हम इस पक्षी को अहमियत…

अलेक्सांदर का जीवन रहस्य से कम नहीं

उनके आसपास के लोग यह बात समझ नहीं पा रहे थे कि अलेक्सांदर अपनी तीसरी बेटी के जन्म के प्रति इतने उदासीन क्यों हैं। लेकिन सम्राट को यह पता था कि वह बच्चा उनका नहीं है... -गतांक से आगे... रूस की सर्दियों में रहने उपयुक्त एकमात्र स्थान पर अपना…
?>