हिमाचल की गोल्डन बेटियां

एशियाई गेम्स में छोटे से पहाड़ी प्रदेश का प्रदर्शन इस बार भी उम्दा रहा । इस बार पहाड़ की बेटियां बेशक गोल्ड से चूक गईं, पर रजत पदक लेकर प्रदेश का नाम रोशन किया है। हिमाचल में किस तरह ट्रेंड हो रहे हैं खिलाड़ी... इसी की तफतीश करता इस बार का…

मानसून सत्र 27 घंटे, 45 सवाल!

27 घंटे 14 मिनट और 39 सेकंड चले मानसून सत्र में सरकार का डिफेंस और विपक्ष का वार देखने को मिला। सात दिन में सदन के भीतर किस तरह का माहौल रहा,  हमारे प्रतिनिधियों ने किन-किन मसलों को सदन पटल पर रखा और सरकार ने कैसे अपना पक्ष प्रस्तुत किया,…

पर्यटन नहीं… भीड़ है

सवारी बाइक की, न हेलमेट; न लाइसेंस... न ही स्पीड पर लगाम। अब इन्हें तो पर्यटक नहीं कह सकते। कभी त्रियूंड, तो कभी शिकारी देवी पहुंचने वाले ऐसे सैलानी हमारी आर्थिकी में योगदान तो नहीं देते , लेकिन चिट्टा, डेंगू और देह व्यापार से देवभूमि को…

विकास की लंगड़ी दौड़

मौसम की मार से हिमाचल पस्त बरसात से बुरी तरह जख्मी हिमाचल के दर्द से केंद्र सरकार अनजान है। हर सेक्टर को भारी -भरकम नुकसान की भरपाई के लिए मिलने वाला बजट ऊंट के मुंह में जीरे के समान है। अगर केंद्र से पर्याप्त मदद मिले, तभी बात बनेगी ...…

शिक्षा में हिमाचली युवा

प्रदेश के इंजीनियरिंग कालेजों का सूखा बताता है कि पहाड़ का नौजवान अब इस करियर में रुचि नहीं रखता है। दूसरी ओर... मेडिकल कालेजों में सालाना 700 नए डाक्टरों का तैयार होना दर्शाता है कि मेडिकल लाइन ही राइट च्वाइस है। रैंकिंग की जाए तो इसके बाद…

कितना फिट हिमाचली युवा

आज के युवा आकर्षक और सुडौल शरीर बनाने के लिए क्या कुछ नहीं करते। कुछ जिम में पसीना बहा रहे हैं, तो कुछ योग के सहारे खुद को सबसे हटकर दिखने का प्रयास कर रहे हैं।  हैल्थ को लेकर कितना जागरूक है, हिमाचली युवा .... दखल के जरिए बता रहे हैं....…

खेल में हिमाचली युवा

क्रिकेट हो,कबड्डी हो, शूटिंग या फिर हॉकी...  किसी भी खेल का जिक्र  किया जाए तो उसमें पहाड़ की प्रतिभाएं किसी से कम नहीं हैं। प्रदेश के प्लेयर देश-दुनिया में हिमाचल का नाम रोशन कर रहे हैं।  प्रदेश में खेल ढांचे व होनहारों की उपलब्धियां  बता…

कला के क्षेत्र में हिमाचली युवा

प्रीटि जिंटा  हो या कंगना रणौत, दीपक ठाकुर या गे्रट खली, ये सभी पहाड़ की माटी के वे  सितारे हैं , जो अपनी चमक से देश-दुनिया को रोशन कर रहे हैं। कला के क्षेत्र में हिमाचली युवाओं की प्रतिभा को दखल के जरिए बता रहे हैं..... भावना शर्मा,…

स्वाद बदलते हिमाचली युवा

ताकतवर गेहूं की जगह खोखले मैदे से बने नूडल्स ने ले ली तो चावल को मोमो ने पछाड़ दिया। हिमाचल के नौजवानों को दूध-लस्सी से ज्यादा कोल्ड ड्रिंक्स प्यारी हो गई। जी,हां! यही है देवभूमि में खान-पान का नया ट्रेंड। स्वाद के बहाने फास्ट फूड युवाओं पर…

ड्रेसअप होता हिमाचली युवा

पर्सनेलिटी में बोलचाल का जितना महत्त्व है, उतना ही पहनावा भी मायने रखता है। समय के साथ-साथ ड्रेसिंग का ट्रेंड भी बदलता रहता है। आज हिमाचली  युवा किस तरह खुद को ड्रेसअप कर रहा है, दखल के जरिए बता रहे हैं...भावना शर्मा, प्रतिमा चौहान व…

मैदान में युवा

हिमाचल के नौजवान खेलों में भी प्रदेश को गौरवान्वित कर रहे हैं, लेकिन बेहतर सुविधाएं न मिलने से खेल प्रतिभाएं दम तोड़ती नजर आने लगी हैं। दूसरे राज्यों के मुकाबले हिमाचल के पिछड़ते खेल ढांचे को दखल के जरिए बेपर्दा कर रहे हैं, शकील कुरैशी,…

लाइब्रेरी में युवा

एचपीयू में दो लाख किताबें प्रतियोगिता में अव्वल रहने के लिए अच्छी किताबों व कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। युवा वर्ग के लिए प्रदेश की लाइब्रेरियों में अच्छी-अच्छी पुस्तकें उपलब्ध   हैं। लिहाजा पुस्तकालय में युवा वर्ग की दिलचस्पी बढ़ रही…

शिमला की सिसकियां

32 हजार आबादी के लिए बसाए गए शिमला शहर में आज करीब दो लाख लोग वास कर रहे हैं, लेकिन नगर की दुर्गति यह है कि जनसंख्या बढ़ने के साथ मूलभूत सुविधाओं की ओर किसी ने ध्यान ही नहीं दिया। मसलन  पानी, सड़कें स्वास्थ्य और पार्किंग की दिक्कत दिनों-दिन…

दहकते जंगल

हर साल की तरह इस बार भी जंगल की आग में करोड़ों की वन संपदा राख हो चुकी है। यहीं नहीं, प्रचंड दावानल ने तीन अमूल्य जिंगदियों को भी लील लिया है। हर बार सरकार आग से निपटने की कई योजनाएं बनाती है पर आखिरकार नतीजा सिफर ही होता है। प्रदेश में…

हिंदी पत्रकारिता की धार

बेशक इक्कीसवीं सदी आते-आते दुनिया का चेहरा-मोहरा हर लिहाज से बहुत अधिक बदल गया है, परंतु मीडिया और पत्रकारिता के संबंध आज भी बदस्तूर कसौटी पर कसे जाते हैं। इसमें दो राय नहीं कि अब तक रचित साहित्य का बड़ा भाग शाश्वत और यशस्वी होकर मानव…