ब्लॉग

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं नीतीश ने यह प्रतिस्थापित कर दिया है कि राष्ट्रीय राजनीति में उनका दो कारणों से महत्त्व है-एक यह कि वह सत्ता हासिल करते हैं, लेकिन अपने या परिवार के लिए नहीं बल्कि जनता के कल्याण के लिए। दूसरे, समुदाय विशेष पर आधारित पंथनिरपेक्षता

भूपिंदर सिंह लेखक, राष्ट्रीय एथलेटिक प्रशिक्षक हैं राज्य के इन राजनीतिक दलों के घोषणा पत्रों में इस बार क्या खेलों का जिक्र होगा?  हिमाचल प्रदेश के पास जो इस समय अंतरराष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधा है, उसके उपयोग के लिए वहां खेल छात्रावास बनाकर क्या प्रदेश के चुनिंदा खिलाडि़यों को उच्च स्तरीय प्रशिक्षण का प्रबंध

पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं ऐसे बहुत से लोग हैं जो किसी भी राजनीतिक दल से या राजनीतिक विचारधारा से नहीं जुड़े हैं। ऐसे लोग कुछ मुद्दों पर प्रधानमंत्री मोदी का समर्थन करते हैं और कुछ मुद्दों पर उनका विरोध करते हैं। वे भारत के ऐसे नागरिक हैं, जिनकी विचारधारा स्वतंत्र

डा. भरत झुनझुनवाला लेखक, आर्थिक विश्लेषक एवं टिप्पणीकार हैं बैंक इस समय चारों तरफ से घिरे हुए हैं। देश की अर्थव्यवस्था का इंजन सेवा क्षेत्र हो गया है, जिसे ऋण की जरूरत कम है। बड़े उद्योग सीधे बांड के माध्यम से पूंजी उठा रहे हैं। छोटे उद्योग पस्त हैं और इनकी ऋण लेने की क्षमता

कुलदीप नैयर लेखक वरिष्ठ पत्रकार हैं आज नहीं तो कल हिंदी को आने वाली पीढि़यां सीखेंगी। यहां तक कि दक्षिण के लोग भी महसूस करने लगे हैं कि हिंदी से किनारा करके समस्या का समाधान नहीं होगा, इसलिए उनके बच्चे हिंदी सीख रहे हैं। संभवतः मोदी सरकार भी महसूस करती है कि उसे चुप ही

डा. कुलदीप चंद अग्निहोत्री लेखक, वरिष्ठ स्तंभकार हैं हुर्रियत कान्फ्रेंस कश्मीर की जनता का नहीं, बल्कि पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करती है। यदि मोदी सरकार को कोई बात भी करनी होगी, तो वह पाकिस्तान से सीधे कर सकती है। वह हुर्रियत के दलालों के माध्यम से बात क्यों करेगी? हुर्रियत कान्फ्रेंस के नेताओं की गिरफ्तारी कश्मीर

प्रो. एनके सिंह लेखक, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन हैं वर्तमान स्थिति में उत्तर कोरिया के अलावा दूसरा कोई देश परमाणु हथियारों के उपयोग की बात नहीं सोचेगा। चीन को अपनी तुच्छ युद्धप्रियता को भी समझना चाहिए, विशेषकर उस स्थिति में जबकि अमरीका व जापान उसके सामने खड़े हैं। हाल में भारत, जापान

भूपिंदर सिंह लेखक, राष्ट्रीय एथलेटिक प्रशिक्षक हैं सभी कक्षाओं के लिए ड्रिल का एक-एक पीरियड रखना पड़ेगा और कक्षा के सभी विद्यार्थियों को अपनी-अपनी शारीरिक क्रियाओं के लिए जहां माकूल जगह चाहिए, वहीं उपकरण तथा विभिन्न खेलों में भागीदारी पर वह खेल सामान भी चाहिए। इस सबके लिए ज्यादा धन की आवश्यकता स्कूली स्तर पर

पीके खुराना लेखक, वरिष्ठ जनसंपर्क सलाहकार और विचारक हैं एस. राधाकृष्णन, डा. जाकिर हुसैन से लेकर भैरों सिंह शेखावत और वर्तमान उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी तक सभी उपराष्ट्रपतियों की योग्यता और योगदान का लंबा इतिहास रहा है। इनमें से बहुत से महानुभाव बाद में राष्ट्रपति बने, परंतु जहां सब निर्णय राजनीतिक समीकरणों को लेकर होने